DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश के युवाओं को जॉब दिलाने का जिम्मा उठाया

पढ़ाई के बाद छात्रों के लिए बेस्ट प्रोफेशन का चुनाव करना एक बड़ी चुनौती होती है। युवाओं की इस समस्या का समाधान करने का बीड़ा शहर के एक आईआईटी इंजीनियर ने उठाया है। आज वह हजारों युवाओं को उनकी पंसद के अनुसार इंडस्ट्री में जॉब उपलब्ध करा रहे हैं।

उद्योग विहार में एस्पायर माइंड के संस्थापक निदेशक हिमांशु अग्रवाल ने आईआईटी दिल्ली से क म्यूटर साइंस में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद यूएसए में पांच साल तक नौकरी की। मगर देश प्रेम और यहां के युवाओं को जागरूक करने की इच्छा उन्हें स्वदेश वापस ले आई। यहां आकर उन्होंने एस्पायर माइंड की स्थापना की। वह बताते हैं कि अपना काम करने की सोच उनके मन में पहले से ही थी। 2005 में यूएसए से लौटने के बाद उन्होंने व्यवसाय शुरू करने की दिशा में पहल-कदमी शुरू कर दी। उन्होंने बताया कि हमारे देश में इंडस्ट्री और कॉलेजों के छात्रों के बीच काफी असमानता है। इंडस्ट्री की मांग के अनुसार प्रोफेशनल्स न मिलने के कारण दोनों को परेशानी होती है। यह समस्या सिर्फ गुड़गांव की ही नहीं पूरे देश की है। इसी को ध्यान में रखकर 2007 में उन्होंने अपने सहयोगी अरुण व 15 अन्य लोगों के साथ काम शुरू किया।

31 वर्षीय अग्रवाल बताते हैं कि एस्पायर माइंड युवाओं के लिए ऐसा प्लेटफॉर्म है, जहां पर हर युवक को उसकी आवश्यकता के अनुसार नौकरी के लिए एसेसमेंट किया जाता है। उन्होंने कहा कि वह लोग पहले भी टेक्नोलॉजी के साथ मिलकर काम करते थे। अब भी टैक्नोलॉजी के साथ काम कर रहे हैं। किसी भी व्यक्ति का एसेसमेंट एक खास सॉफ्टवेयर से किया जाता है। उन्होंने बताया कि कई बार देखा जाता है कि कंपनी से कर्मचारी काम बीच में छोड़कर भाग जाता है। इससे कंपनी को दिक्कतें होती हैं। ऐसे में हमारे इंस्टीट्यूट में छात्रों की एमकैट परीक्षा ली जाती है। इससे छात्रों की कमियों का पता लगाया जाता है और एक रिपोर्ट तैयार की जाती है कि कि वह छात्र किस फिल्ड में बेहतर काम कर सकता है। इसके बाद उसे कंपनी में प्लेसमेंट उपलब्ध कराई जाती है। इससे कंपनी व क र्मचारी दोनों को फायदा होता है। वह बताते हैं कि तीन साल में 15,000 युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया जा चुका है। वह बताते हैं कि हमारे यहां पिछले वर्ष 11000 छात्रों को रोजगार उपलब्ध कराया गया। पहले वह सिर्फ  गुड़गांव स एनसीआर में इस काम को अंजाम देते थे, मगर अब इनका दूसरा क ार्यालय बेंगलुरु में भी खुल गया है। अब एस्पायर माइंड में काम करने वालों की संख्या 100 से भी अधिक हो गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: देश के युवाओं को जॉब दिलाने का जिम्मा उठाया