DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओसामा की मौत की खबर कोई चाल तो नहीं!

ओसामा की मौत की खबर कोई चाल तो नहीं!

ओसामा की मौत एक बार फिर रहस्य बनती जा रही है। कुछ एजेंसियों को संदेह है कि अमेरिका ने ओसामा को जिंदा पकड़ा है और उससे खुफियां जानकारियां लेने के लिए अमेरिकी सेना उसे अपने साथ ले गई है। और दुनिया को गुमराह करने के लिए ओसामा की मौत की खबर प्रचारित की है। ताकि उसके जिंदा रहने की स्थिति में आतंकी समूह अपने हथकंडों के जरिए उसे आजाद कराने की जोरदार मुहिम न चला सकें, जिसके अमेरिका को खौफनाक नतीजे भुगतने पड़ सकते हैं।

संदेह के ये बादल प्रख्यात फ्रेंच न्यूज एजेंसी एएफपी की उन दो तस्वीरों से गहराए हैं जिनके बीच एजेंसी ने खुद तुलना करते हुए भारी समानताएं बताई हैं। एक तस्वीर आज ओसामा की मौत की खबर के बाद जारी की गई है तो दूसरी कई साल पहले की है। दोनों तस्वीरों में काफी कुछ समानताएं हैं।

दोनों तस्वीरों को सामने रखने पर कई समानताएं ऐसी दिखती हैं जिससे लगता है कि कहीं ओसामा की मौत के पीछे कोई चाल तो नहीं है। इन दोनों तस्वीरों को गौर से देखेंगे तो पाएंगे कि इतने सालों बाद भी उसकी दाढ़ी में कोई अंतर नहीं आया। उसकी दाढ़ी के बाल जितने सालों पहले पके थे उतने ही मौत के वक्त भी पके थे। उसकी दाढ़ी का एक और पहलू है जिससे शक को बल मिलता है वह यह कि मौत के बाद जारी तस्वीर में दाढ़ी पर फोटोशॉप में ब्रश का काम दिखता है। जहां पुरानी तस्वीर में दाढ़ी के बाल एज पर टेढ़े-मेढ़े दिखते हैं वहीं मौत के बाद की तस्वीर में वह बिल्कुल ऐसे दिखती है जैसे पैंसिल से लाइन खींची गई हो।

उसकी पुरानी तस्वीर जिससे यह तुलना की जा रही है उसमें ओसामा बोल रहे थे और मौत के बाद जो तस्वीर ली है, दोनों के मुंह बराबर खुले हैं। दोनों तस्वीरों में दांत भी उतने ही दिख रहे हैं और चेहरे के भाव में भी अंतर नहीं दिखता। पुरानी तस्वीर में जहां ओसामा ने एक सफेद पगड़ी पहनी है, वहीं मौत के बाद की तस्वीर में उसका सिर नंगा है। सिर्फ यही एक अंतर तस्वीर में दिखाई देता है।

शक ओसामा का शव किसी को न दिखाकर उसे दफनाने की जल्दबाजी से भी होता है और अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के आनन फानन में राष्ट्रीय टेलीविजन पर आकर लादेन की मौत की पुष्टि करने से भी। ओसामा को समुद्र में दफनाने की खबरें तो हैं, लेकिन किस समुद्र में दफनाया गया है इस बारे में कोई खुलासा नहीं किया गया। लादेन तक अमेरिका की पहुंच पर तो शक नहीं होता है लेकिन कुछ लोगों की मानें तो हो सकता है ओसामा को अमेरिका ने जिंदा पकड़कर बंदी बनाकर नकली तस्वीर जारी कर दी हो।

अलकायदा के इतने बड़े नेटवर्क को नेस्तनाबूद करने की ठाने बैठा अमेरिका उसके मुखिया को मुट्ठी में आने के बाद इतनी आसानी से मौत के घाट उतार दे यह बात भी हजम नहीं होती। अमेरिका चाहेगा कि वह ओसामा को जिंदा पकड़े और उसके नेटवर्क के बारे में कुछ उगलवाने की कोशिश करे, साथ ही आतंकी नेटवर्क में नम्बर-2 अयमान अल जवाहिरी की भी जानकारी ओसामा से जुटाने की कोशिश करे।

इससे पहले ओसामा बिन लादेन के पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद से 100 किमी से भी कम दूरी पर बसे एबटाबाद में सोमवार तड़के मारे जाने की खबर से दुनियाभर में आतंकवाद से पीड़ित लोगों ने चैन की सांस ली। लादेन के मारे जाने के बाद उसके शव को बिना किसी को दिखाए समुद्र में दफनाने की बात भी कही गई। इसके अलावा आनन-फानन में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी नेशनल टेलीविजन पर आकर इस बात की पुष्टि की और अमेरिका इस खबर को सुनकर झूम उठा।

लादेन के मारे जाने के बाद उसकी इकलौती तस्वीर जारी की गई है। इसमें उसका सिर्फ चेहरा दिखाया गया है, इसके साथ यह भी खबर दी गई की आमने-सामने की मुठभेड़ में गोली उसके सिर में जा लगी, जिससे उसकी मौत हो गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ओसामा की मौत की खबर कोई चाल तो नहीं!