DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हवाई यात्रा किराया अधिक वसूलने पर डीजीसीए सख्त

नागर विमानन नियामक डीजीसीए ने सोमवार को निजी विमानन कंपनियों से कहा कि वे अनाप-शनाप टिकट मूल्य (स्पाट) नहीं वसूलें। साथ ही कंपनियों से सुनिश्चित करने को कहा गया है कि इस तरह की टिकटों का मूल्य उनकी वेबसाइट पर प्रकाशित अधिकतम किराये से अधिक नहीं हो।

यह निर्देश डीजीसीए प्रमुख इके भारत भूषण की निजी विमानन कंपनियों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में दिए गए। इससे पहले ऐसी शिकायतें आई थीं कि एयर इंडिया पायलटों की हड़ताल के कारण टिकटें रद्द होने के बीच निजी विमानन कंपनियां टिकटों पर अनाप शनाप किराया वसूल रही हैं।

स्पाट कीमत या अंतिम क्षणों में खरीदी जाने वाली टिकटों का मूल्य वह होता है जो उड़ान के तय समय से दो घंटे पहले टिकट खरीदने पर चुकाना पड़ता है। फिलहाल अधिकांश रूट के लिए निजी कंपनियों का किराया 9,000—18,000 रुपये चल रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हवाई यात्रा किराया अधिक वसूलने पर डीजीसीए सख्त