DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लादेन की आतंक की यात्रा

लादेन की आतंक की यात्रा

अमेरिकी धरती पर अब तक के सबसे भीषण आतंकवादी हमले का सूत्रधार और दुनिया का सर्वाधिक वांछित आतंकवादी ओसामा बिन लादेन सोमवार को एक अभियान में पाकिस्तान में मारा गया। ओसामा के जीवन से जुड़ी कुछ अहम घटनाएं इस प्रकार हैं:-

1957: सऊदी अरब में लादेन का जन्म। वह निर्माण उद्यमी मुहम्मद अवाद बिन लादेन के 52 बच्चों में से 17वां था।
1979: युवा बिन लादेन मुजाहिदीन नाम से पहचाने जाने वाले लड़ाकों की मदद के लिए अफगानिस्तान गया। लादेन एक गुट का मुख्य आर्थिक मददगार बन गया, जो बाद में अल कायदा कहलाया।
1989: अफगानिस्तान में सोवियत संघ के हटने के बाद लादेन परिवार की निर्माण कंपनी के लिए काम करने के उद्देश्य से सउदी अरब लौट गया। यहां उसने अफगान युद्ध में मदद के उद्देश्य से अपने साथियों से कोष जुटाना शुरू कर दिया।
1991: सरकार विरोधी गतिविधियों के चलते उसे सऊदी अरब से निष्कासित कर दिया गया। सऊदी अरब ने उसकी और उसके परिवार की नागरिकता को वापस ले लिया। उसने सूडान में शरण ली।
1993: वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर बम गिरा, छह की मौत, सैकड़ों घायल। इस संबंध में छह मुस्लिम कट्टरपंथी दोषी ठहराए गए। अमेरिकी अधिकारियों के मुताबिक, इनके संबंध लादेन से थे।
1995: नैरोबी और तंजानिया के दार-ए-सलाम में अमेरिकी दूतावासों के बाहर बम विस्फोट, 224 की मौत।
1996: अमेरिकी दबाव के कारण सूडान ने लादेन को निष्कासित किया। लादेन अपने 10 बच्चों और तीन बीवियों को लेकर अफगानिस्तान पहुंचा। यहां उसने अमेरिकी बलों के खिलाफ जिहाद की घोषणा की।
1998: अमेरिका की एक अदालत ने दूतावासों पर बमबारी के आरोप में लादेन को दोषी ठहराया। उसके सिर पर 50 लाख डॉलर का इनाम रखा गया।
2000: यमन में एक आत्मघाती हमले में 17 अमेरिकी नाविकों की मौत।
2001: अल-कायदा प्रमुख ने 11 सितंबर को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के टि्वन टॉवर्स और पेंटागन पर हमला किया, 3,000 से ज्यादा लोगों की मौत।
2001: इस हमले के बाद अमेरिकी सरकार ने लादेन का नाम मुख्य संदिग्ध के तौर पर घोषित किया। अमेरिकी सुरक्षा बल अफगानिस्तान स्थित तोरा-बोरा की पहाड़ियों में छिपे लादेन को मारने में असफल रहे। खबरों के मुताबिक, लादेन पाकिस्तान भागा।
2002: अमेरिका नीत सैन्य अभियान तेज हुआ। गठबंधन बलों ने मैदानी सुरक्षा बलों की संख्या बढ़ाई। लादेन पर्दे के पीछे रहा, लेकिन कुछ समय बाद अल-जजीरा ने उसकी आवाज वाले दो ऑडियो टेप प्रसारित किए। अमेरिकी खुफिया अधिकारियों के मुताबिक, ये रिकॉर्डिंग प्रामाणिक थी।
2003: ओसामा की दुनिया भर के मुसलमानों से अपील, अपने मतभेद दूर करके जिहाद में भाग लें।
2004: चार जनवरी को, अल-जजीरा ने दोबारा लादेन के टेप जारी किए। मार्च में अमेरिकी रक्षा अधिकारियों ने अफ-पाक सीमा के पास लादेन के लिए खोज अभियान और तेज किया।
2009: अमेरिकी रक्षा मंत्री रॉबर्ट गेट्स ने कहा कि अधिकारियों के पास कई सालों से लादेन के पते के बारे में कोई विश्वसनीय जानकारी नहीं है।
2011: अमेरिका ने इस्लामाबाद के पास एक विशेष अभियान में लादेन को मार गिराया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लादेन की आतंक की यात्रा