DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आतंक के खिलाफ कोशिशें कमजोर नहीं पड़नी चाहिएः कृष्णा

आतंक के खिलाफ कोशिशें कमजोर नहीं पड़नी चाहिएः कृष्णा

आतंकवाद के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय युद्ध में अल कायदा सरगना ओसामा बिन लादेन के मारे जाने को भारत ने मील का पत्थर करार दिया है। भारत ने साथ ही कहा कि दुनिया को आतंकवादियों की उन सुरक्षित पनाहगाहों को नष्ट करने के अपने एकजुट प्रयासों को कमजोर नहीं पड़ने देना चाहिए जो पड़ोसी देश में स्थित हैं।

विदेश मंत्री एस.एम. कृष्णा ने सोमवार को नई दिल्ली में एक बयान में कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने घोषणा की है कि उनकी सरकार ने एक सफल अभियान चलाया, जिसकी परिणति पाकिस्तान के भीतर ओसामा बिन लादेन के मारे जाने के रूप में हुई।

उन्होने कहा कि इस अभियान ने अल कायदा प्रमुख को पकड़ने के लिए करीब एक दशक से चलाए जा रहे प्रयासों को विराम दे दिया है। इस घटनाक्रम को ऐतिहासिक और मील का पत्थर करार देते हुए कृष्णा ने कहा कि सालों से, हजारों निर्दोष पुरूष, महिलाएं और बच्चे आतंकवादी समूहों के हाथों मारे गए।

संघर्ष के निर्बाध जारी रहने पर जोर देते हुए विदेश मंत्री ने कहा कि आतंकवाद पर काबू पाने और हमारे पड़ोस में आतंकवादियों को जो सुरक्षित पनाहगाह उपलब्ध कराई गयी हैं, उन्हें खत्म करने के लिए दुनिया को अपने प्रयासों को कमजोर नहीं पड़ने देना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आतंक के खिलाफ कोशिशें कमजोर नहीं पड़नी चाहिएः कृष्णा