DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीत की संभावना वाले उम्मीदवारों को प्राथमिकता: अमरिंदर

पंजाब में आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर पंजाब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि टिकट के लिए उन्हीं दावेदारों की अनुशंसा पार्टी आला कमान से की जाएगी जो जीतने की संभावना रखते हैं।

होटल मालिक हत्याकांड के सिलसिले में पीडित परिवार को सांत्वना देने हाल ही में जालंधर आये प्रदेश कांग्रेस प्रमुख कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि विधानसभा चुनावों के लिए रूपरेखा तय की जा रही है और टिकट के लिए ऐसे उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा जो जीत की संभावना रखते होंगे।

सिंह ने कहा कि साफ सुथरी छवि वाले उम्मीदवारों को ही टिकट दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि टिकट के लिए नामों पर मुहर लगाने का काम पार्टी आलाकमान का है। प्रदेश कांग्रेस की ओर से समय आने पर उन्हें सिफारिश भेज दी जाएगी।

प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि टिकट के लिए सिफारिश करने के समय दो बातों पर खास ध्यान दिया जाएगा। आलाकमान के पास सिफारिश भेजने से पहले इस बात पर गौर किया जाएगा कि टिकट के आवेदकों में से जीत की संभावना वाले और साफ सुथरी छवि वाले कौन हैं।

यह पूछे जाने पर कि पार्टी महासचिव राहुल गांधी युवकों को आगे बढ़ाने पर खासी रूचि दिखा रहे हैं तो क्या आप युवा चेहरों को लेकर आयेंगे, अमरिंदर ने कहा कि पार्टी आलाकमान (सोनिया गांधी) स्वयं भी पार्टी में युवकों को आगे लाने का इच्छुक है।

उन्होंने कहा कि युवकों को विधानसभा चुनावों में प्रतिनिधित्व दिया जाएगा। निश्चित तौर पर उन्हें भी मौका दिया जाना चाहिए।

जालंधर में टिकट बंटवारे के बारे में पूछे जाने पर पंजाब कांग्रेस प्रमुख ने यह भी कहा कि प्रदेश कांग्रेस का काम सिफारिश भेजना है, उस पर अंतिम मुहर पार्टी प्रमुख को ही लगानी है। इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा।

पंजाब में कानून व्यवस्था के बारे में पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के पिछले शासन के मुकाबले वर्तमान अकाली भाजपा गठजोड़ शासन में अपराधों में 65 फीसदी से अधिक का इजाफा हुआ है। यह शर्मनाक है। सूबे में जंगलराज हो गया है। राजनीतिक संरक्षण पाये अपराधी जब चाहे जिसे चाहे मार देते हैं। जिन्हें राजनीतिक संरक्षण नहीं है, उन्हें अपराध करने के बाद संरक्षण दे दिया जाता है।

इसके साथ ही कैप्टन ने यह भी कहा कि उन्होंने पंजाब आयुर्विज्ञान संस्थान (पिम्स) के बारे में केंद्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद के साथ बातचीत की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार आते ही पिम्स का लाइसेंस और जालंधर के एपीजे स्कूल के जमीन आवंटन को रद्द कर दिया जाएगा।

पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी दावा किया कि कांग्रेस अगर सत्ता में आती है तो सबसे पहले सूबे में अपराधियों पर नकल कसी जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जीत की संभावना वाले उम्मीदवारों को प्राथमिकता: अमरिंदर