DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कौन था ओसामा

कौन था ओसामा

अमेरिका का मोस्ट वांटेड आतंकवादी ओसामा बिन लादेन सोमवार को अमेरिकी कमांडो कार्रवाई में पाकिस्तान में मारा गया। आइए जाने कौन था ओबामा।

जन्म
ओसामा बिन लादेन का जन्म सऊदी अरब के रियाध में एक धनी परिवार में 10 मार्च 1957 को हुआ था। अल कायदा के प्रमुख के तौर पर वह अमेरिका में में 9/11 में हुए हमले का मास्टरमाइंड था।

बचपन
उसके पिता मोहम्मद बिन अवाद बिन लादेन एक बड़े व्यापारी थे, उनके अरब के शाही परिवार से करीबी रिश्ते भी थे। ओसामा अपने पिता की दसवीं पत्नी हमीदा का अकेला बेटा था। ओसामा के जन्म के लेने के कुछ समय बाद ही उसके माता-पिता एक दूसरे से अलग हो गए थे। उसके बाद ओसामा की मां ने दूसरी शादी कर ली और ओसामा अपने तीन सौतेले भाई और एक सौतेली बहन के साथ रहने लगा।

एजुकेशन
करीब आठ साल तक उसने ईलीट सेकुलर अल-थागर मॉडल स्कूल में पढ़ाई की और उसके बाद उसने इकॉनमिक्स और बिजनेस ऐडमिनिस्ट्रेशन की पढ़ाई किंग अब्दुलाजीज यूनिवर्सिटी में की। कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक, लादेन के पास सिविल इंजिनियरिंग या पब्लिक ऐडमिनिस्ट्रेशन की डिग्री थी। यह भी कहा जाता है कि उसने डिग्री के तीसरे साल यूनिवर्सिटी छोड़ दी थी। वैसे पढ़ाई के दौरान उसका रुझान धर्म की ओर ज्यादा था। वह कुरान और जेहाद पर व्याख्यान देता था। ओसामा को कविताएं लिखने का भी शौक था।

लादेन का परिवार
17 साल की उम्र में उसकी पहली शादी नजवा से 1974 में हुई थी। सीएनएन नैशनल सिक्युरिटी के मुताबिक 2002 तक वह 4 शादी कर 25 से 26 बच्चों का बाप बन गया था। उसके पिता मोहम्मद बिन लादेन का मौत एक हवाई हादसे में 1967 में हुई थी। उसके बड़े सौतेले भाई की भी मौत अमेरिका में एक हवाई हादसे के चलते ही हुई थी।

जेहाद की ओर कदम
लादेन का मानना था कि शरियत के कानूनों से ही मुस्लिम जगत में सब कुछ ठीक हो सकता है। वह लोकतंत्र, समाजवाद आदि विचारधाराओं का घोर विरोधी था। वह मानता था कि मुल्ला उमर का शासन वाला तालिबान ही एकमात्र इस्लामिक देश है। वह मुस्लिमों के खिलाफ हो रहे अन्याय को सुधारने के लिए हिंसा को सही मानता था। उसे लगता था कि अमेरिका और कुछ गैर मुस्लिम देश ही मुस्लिम कौम के खिलाफ साजिश रचते हैं। वह जेहाद के चलते किए गए हमलों में मारे जाने वाले बच्चों और महिलाओं की मौत को भी सही मानता था।

सऊदी अरब से देश निकाला
अनेक आतंकी हमलों के पीछे ओसामा को जिम्मेदार माना जाता रहा है। ओसामा के आतंकी कनेक्शनों के चलते ही उसकी सऊदी अरब की नागरिकता खत्म कर दी गई और उसके परिवार ने भी खुद को उससे अलग कर लिया। जिसके बाद वह अफगानिस्तान आ गया और तालिबानी शासन के संरक्षण में फलने-फूलने लगा और अमेरिका के खिलाफ साजिश रचने लगा।

आतंकी हमले का साजिश
1998 में यूएस ऐंबेंसी में हुए धमाकों के चलते अमेरिकी खुफिया एजेंसी की मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों की लिस्ट में उसका नाम शुमार हुआ।  2001 से ओसामा और उसका संगठन लगातार अमेरिका के खिलाफ आतंकी साजिशें रचता रहा है। 11 सितंबर, 2001 को अमेरिका में हुए आतंकवादी हमले ने पूरी दुनिया को चौंका दिया, जब उसने वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हवाई जहाजों से हमला किया। इस दौरान पेंटागन और व्हाइट हाउस पर भी हमले की कोशिश की गई। जिसके बाद अमेरिका ने अफगानिस्तान पर हमला कर दिया।

ओसामा की मौत
अमेरिकी पर विध्वंसक हमले के 10 साल बाद 2 मई 2011 को अमेरिकी कमांडो की कार्रवाई में लादेन मारा गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कौन था ओसामा