DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिक्कत बाहर की, झेली दिल्ली वालों ने

दिक्कत बाहर की, झेली दिल्ली वालों ने

दिल्ली में सबसे अधिक छात्रों ने कराया था रजिस्ट्रेशन, कुछ केंद्रों में छात्रों ने एक से दो घंटे तक किया लीक वाला पर्चा

अखिल भारतीय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में पेपर लीक होने ने दिल्ली के छात्रों को सबसे अधिक परेशान किया। इसकी वजह थी कि यहां के छात्रों ने सबसे अधिक रजिस्ट्रेशन कराया था। यही नहीं दिल्ली के कई केंद्रों में परीक्षा का शिडय़ूल गड़बड़ाने की वजह से परीक्षा ही नहीं कराई गई। ऐसे केंद्रों पर परीक्षा आठ मई को होगी।

अखिल भारतीय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में दिल्ली के 90,363 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था जबकि ऑनलाइन फॉर्मेट में परीक्षा के लिए 750 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। दिल्ली के बाद सबसे अधिक रजिस्ट्रेशन हैदराबाद (44,930) और पुणे (39,568) ने कराया था। दिल्ली में कई केंद्रों पर सुबह साढ़े नौ बजे शुरू हुई परीक्षा का पर्चा बांट दिया गया। कुछ केंद्रों पर छात्रों ने एक घंटे से अधिक तक परीक्षा दे भी दी इसके बाद उन्हें इस बात की जानकारी हुई कि प्रश्नपत्र लीक हो चुका है। ऐसे में केंद्रों में एकदम से परीक्षा रूकवा दी गई। जिसकी जानकारी मिलने में छात्रों को काफी समय लग गया। एक छात्र अनिमेष ने बताया कि कई देर तक इस बात की जानकारी ही नहीं लगी कि पेपर होगा भी या नहीं। पर बाद में मालूम चला कि पेपर बारह बजे होगा। वहीं कुछ केंद्रों पर एफएमसी और एआईईईई की परीक्षा होने की वजह से परीक्षा आठ मई को होने की बात कही गई।

परीक्षा केंद्रों पर अफरातफरी

अखिल भारतीय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा (एआईईईई) की परीक्षा में हुए समय के बदलाव की वजह से छात्रों का काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। कई केद्रों पर छात्रों को काफी देर तक इस बात की जानकारी ही नहीं मिली कि परीक्षा रद्द कर दी गई है। परीक्षा होगी या नहीं इस बात की जानकारी पाने के लिए छात्र इधर-उधर भटकते रहे।

छात्रों को परीक्षा रद्द होने की जानकारी मिलने के बाद कई केंद्रों पर हंगामा मच गया। केंद्रीय विद्यालय, कैंट में परीक्षा देने आए अमित कुमार सिन्हा ने बताया कि छात्र परीक्षा दे रहे थे कि अचानक खबर मिली कि पर्चा लीक हो गया है। परीक्षार्थी विश्वजीत ने बताया कि परीक्षा रद्द होने से छात्रों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। परीक्षा केंद्रों पर कोई कुछ भी बताने को तैयार नहीं था। उन्होंने बताया कि हमारे जैसे सैकड़ों ऐसे छात्र हैं जो दूसरे राज्यों से परीक्षा देने आए हैं, जिनके लिए परीक्षा के समय में बदलाव होना एक बड़ी परेशानी बन गया।

लीक हुआ पेपर था आसान, दूसरे ने किया परेशान

अखिल भारतीय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा का प्रश्नपत्र लीक होने की वजह से छात्रों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। प्रश्नपत्र में हुई देरी की वजह से कुछ छात्रों का प्रश्नपत्र भी खराब हो गया। छात्रों का कहना था कि लीक की वजह से जिस पेपर को रूकवाया गया था वह पेपर आसान था जबकि बाद में आया पेपर कठिन था।

एक छात्र विवेक का कहना था कि पहले प्रश्नपत्र में गणित आसान आई थी लेकिन पेपर रद्द होने के बाद दूसरे पेपर में ध्यान केंद्रित करने में मुश्किल आई। इस वजह से कई आसान सवाल भी मुश्किल हो गए।

छूटे पसीने

दिल्ली के कई केंद्रों में आठ मई को होगी प्रवेश परीक्षा
ऑनलाइन परीक्षा के लिए दिल्ली के 750 उम्मीदवारों का रजिस्ट्रेशन
इंजीनियरिंग और वास्तुकला की 26,816 सीटों के लिए हुई परीक्षा
करीब चार हजार से अधिक छात्रों ने कराया ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
आठ मई को भी है मौका

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिक्कत बाहर की, झेली दिल्ली वालों ने