DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भौतिकी के प्रश्नपत्र से चकराए छात्र

अखिल भारतीय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में हुई परेशानी का सबसे अधिक खामियाजा छात्रों को भुगतना पड़ा है। छात्र जहां लीक हुए पेपर को आसान मान रहे थे तो विशेषज्ञों ने पिछले वर्ष की तुलना में इसे आसान माना। देश भर के 80 शहरों के 1600 केंद्रों में 12 लाख उम्मीदवारों ने एआईईईई की परीक्षा दी।

टाइम के कोर्स डाइरेक्टर अजय एंटनी ने कहा कि एआईईईई के प्रश्नपत्र में 360 अंक के 90 प्रश्न आए थे। उन्होंने कहा कि भौतिक विज्ञान का प्रश्नपत्र कठिन था, रसायन विज्ञान का प्रश्नपत्र औसत तौर पर कठिन था और गणित तीनों की तुलना में आसान था।

फिटजेईई के रमेश बटलिश ने बताया कि पिछले वर्ष प्रश्नपत्र 432 अंक का था और इस बार 360 अंक का। 25000 के करीब रैंक के लिए कटऑफ 180 तक का होगा।

इस बार के भौतिकी के प्रश्नपत्र में तीन प्रश्न निश्चित तार्किक क्षमता वाले थे और कांप्रिहेंशन का एक भी प्रश्न नहीं था जबकि गणित में 5 निश्चित तार्किक क्षमता वाले प्रश्न थे और कांप्रिहेंशन का एक भी सवाल नहीं था जबकि रसायन विज्ञान में तार्किक क्षमता और कांप्रिहेंशन दोनों का कोई भी प्रश्न नहीं था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भौतिकी के प्रश्नपत्र से चकराए छात्र