DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जो जन कहे

खेल के मैदान में जब एक टीम अच्छा खेलती है, तो वह विरोधी का स्तर भी उठा देती है। यही काम अपनी दिल्ली में मेट्रो कर रही है। जिन रूट पर मेट्रो चल रही है, वहां बसों में यात्रियों की संख्या खासी कम हो गई है।

पहले से ही घाटा झेल रही डीटीसी के होश उड़े। उसने बहुत सोचा, फिर एक तरीका निकाला। लोगों से ही पूछ लिया-बताएं किन रूटों पर बस चलाएं। सुझावों के ढेर लग गए। लोगों ने अपने रूटों की विस्तार से जानकारी दी। यह अच्छी पहल है। वैसे यह भी जन सशक्तीकरण का रूप है जो सरकारी तंत्र को आम लोगों के लिए सोचने को मजबूर करता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जो जन कहे