DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्यापार में संरक्षणवाद के खिलाफ आवाज बुलंद करेगा ब्रिक्स

भारत सहित दुनिया की पांच सबसे तेजी से बढ़ रही प्रमुख अर्थव्यवस्था वाले देशों के मंच- ब्रिक्स ने व्यापार में सरंक्षणवाद के खिलाफ आवाज बुलंद करने का संकल्प किया है। इन देशों ने कहा कि वे विकासशील देशों के हितों की रक्षा के लिए जी-20 तथा जलवायु परिवर्तन वार्ताओं में तालमेल से काम करने पर सहमति जताई है।
     
ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका (ब्रिक्स) देशों के शिखर सम्मेलन से पहले आज यहां हुई इन देशों के वाणिज्य मंत्रियों की बैठक हुई। इसमें अरब जगत और लीबिया में आंतरिक उथल पुथल तथा जापान में आए भूकंप और सुनामी से उत्पन्न परिस्थितियों पर चर्चा हुई।
बैठक में करा गया कि इन घटनाओं से विश्व अर्थ व्यवस्था की स्थिति में सुधार की गति को लेकर अनिश्चितता पैदा हो गयी है। इन देशों ने आपासी व्यापार और निवेश के जरिए सहयोग बढाने पर सहमति जताई है।

बैठक के बाद जारी संयुक्त बयान में कहा गया है कि ब्रिक्स के वाणिज्य मंत्रियों ने व्यापार में किसी भी तरह के संरक्षणवाद का विरोध करने का फैसला किया है। बैठक में भारत की ओर से वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री आनंद शर्मा शामिल थे

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:व्यापार में संरक्षणवाद के खिलाफ आवाज बुलंद करेगा ब्रिक्स