अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भ्रम फैला रही है कांग्रेस : नीतीश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कांग्रस के संपर्क में रहने की चर्चा को मतदाताओं के बीच भ्रम फैलाने की कोशिश करार दिया है। सोमवार को मुख्यमंत्री ने बिहार हैंगर में कहा कि मुझे कांग्रसी चार की तरफ देखना भी गवारा नहीं है। हम एनडीए के साथ हैं और केन्द्र में उसी की सरकार बनेगी। यूपीए ने बिहार के साथ बहुत नाइंसाफी की है। एनडीए की सरकार बनने पर बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलवायेंगे। मुख्यमंत्री यह भी मानते हैं कि वह प्रधानमंत्री बनने लायक नहीं है।ड्ढr ड्ढr दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने दावा किया है कि केन्द्र में नयी सरकार बनाने के लिए नीतीश कांग्रस में शामिल भी हो सकते हैं। इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि चौथे चरण के चुनाव से पहले इस तरह के बयान का कोई मतलब नहीं है। जदयू के कांग्रस के साथ जाने की ना तो कोई गुंजाइश है और न ही हम किसी भी स्तर पर उनके संपर्क में हैं। ‘कांग्रस चारा डाल रही हो लेकिन हम उसे छू भी नहीं रहे हैं।’ दीक्षित का बयान भ्रामक और तथ्य से परे है। उनके ऐसा कहने की क्या मंशा है यह तो कांग्रस ही जाने पर मुझे तो यह सिर्फ और सिर्फ गलतफहमी पैदा करने की कोशिश ही लगती है। यह पूछे जाने पर कि हर बड़ा नेता प्रधानमंत्री बनने का ख्वाब दे रहा है, फिर आप इस दौड़ से अलग क्यों हैं, मुख्यमंत्री ने अपने बार में टिप्पणी की कि ‘यह मुंह और मसूर की दाल।’ मैं प्रधानमंत्री बनने की सोच भी नहीं सकता। हम इस पद के लायक ही नहीं हैं। जनता ने मुझे मुख्यमंत्री बनाया है। उसे ही पूरी क्षमता के साथ निभा रहा हूं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भ्रम फैला रही है कांग्रेस : नीतीश