अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीतीश 3 घंटे में 600 बार उठेऔर बैठे !

तीन घंटे में पांच-छह सौ बार की उठक-बैठक। यह किसी स्कूली बच्चे की सजा नहीं थी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लोगों की नववर्ष की बधाई स्वीकार करने के दौरान गुरुवार को ऐसा करना पड़ा। इसका खुलासा उन्होंने जद यू के प्रदेश अध्यक्ष राजीव रांन सिंह ललन और सांसद शिवानंद तिवारी से किया। उन्होंने बताया कि साढ़े दस बजे उन्होंने बधाई लेनी शुरू की और डेढ़ बजे के आस-पास तक पांच-छह सौ बार की उठक-बैठक करनी पड़ी। दरअसल जब भी उम्र में बड़ा कोई आदमी मुख्यमंत्री को बधाई देने आता, वे कुर्सी से खड़े होकर इसे कबूल करते थे। मुख्यमंत्री आवास में लोगों को बधाई देने का तांता लगा हुआ था। गुरुवार को एक, अणे मार्ग में प्रवेश पर कोई बंदिश नहीं थी। जाड़े की गुनगुनी धूप में लॉन में बैठे मुख्यमंत्री लोगों की बधाई कबूल कर रहे थे। कोई फूलों का गुलदस्ता तो कोई मिठाई लेकर पहुंचा था। किसी के हाथ में चादर तो कुछ लोगों के हाथ में ग्रीटिंग्स कार्ड थे। कुछ लोग मुख्यमंत्री राहत कोष का चेक लेकर भी पहुंचे थे। बड़ी संख्या में ऐसे लोग भी पहुंचे थे जिनके हाथ में कुछ नहीं था। मुख्यमंत्री सबसे मिले। बड़े-बूढ़ों का उठकर स्वागत किया तो बच्चों के सिर पर हाथ फेरा। जवानों का हाल-चाल पूछा। एक सज्जन ने पूछा-हमको पहचाने? मुख्यमंत्री ने जवाब दिया- आप लोजपा में हैं न? पूछने वाले एक तरफ हो गए। मुख्यमंत्री ने रंगीन स्वेटर और टोपी पहनकर पहुंचे नागरिक परिषद के उपाध्यक्ष भोला सिंह पर चुटकी ली- आप तो जवान दिख रहे हैं? भोला बाबू ने बाद में पहुंचे भाजपा के ताराकांत झा को कहा- आप तो बुढ़ा गए। लाख कुरदने के बावजूद मुख्यमंत्री आज न तो लालू प्रसाद पर कुछ बोले और न चुनाव पर। लोगों ने जब क्षरायल और फिलीस्तीन के बार में पूछने की कोशिश की तो मुख्यमंत्री ने कहा- बिहार में अमन-चैन है और लोग कल से ही पहली जनवरी के मूड में आ गए हैं। मुख्यमंत्री को बधाई देने वालों में विधान परिषद के कार्यकारी सभापति प्रो. अरुण कुमार, विधानसभाध्यक्ष उदय नारायण चौधरी, मंत्रिपरिषद के लगभग सभी सदस्य, दर्जनों विधायक, धार्मिक न्यास पर्षद के अध्यक्ष किशोर कुणाल, मुख्य सचिव आरोएम पिल्लै और डीाीपी डी.एन. गौतम समेत पुलिस और प्रशासनिक महकमे के लगभग सभी आला अधिकारी, नागरिक परिषद के महासचिव अनिल पाठक, कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता शंभूनाथ सिन्हा तथा भाजपा और जनता दल यू के हाारों नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नीतीश 3 घंटे में 600 बार उठेऔर बैठे !