अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

युवाओं ने जमकर मचाई धूम

नववर्ष का शुरूर राजधानीवासियों पर धीर-धीर चढ़ा। देर रात मौज-मस्ती में व्यस्त रहने और सुबह को कोहरा व ठंड के कारण दोपहर बाद ही लोगों ने घर से निकलना बेहतर समझा। शाम को मौर्यालोक कांप्लेक्स व रस्टूरंट में लोग नए साल के पहले दिन को सेलिब्रेट करने पहुंचे। सभी रस्टोरंट में ग्राहकों की सुविधा के लिए विशेष इंतजाम किए गए थे।ड्ढr ड्ढr मौर्या होटल के वॉलीवुड ट्रीट रस्टोरंट में ग्राहकों के मनोरांन के लिए बेहतर म्युजिक सिस्टम के इंतजाम किए गए थे। वहीं अन्य रसटूरंट में भी लोगों की अच्छी संख्या देखने को मिली। शाम को आम लोग, खासकर युवाओं का दल सड॥कों पर उमड़ा।ड्ढr मंदी का असर तो नववर्ष के उमंग पर भी दिखा। शाम को होटल-रस्टूरंटों में तो लोग पहुंचे पर अपेक्षा के अनुरूप नहीं। मौर्यालोक कांप्लेक्स में भी लोगों की अच्छी संख्या देखी गयी। यहां के रस्टूरंट से लेकर चाइनीज व पावभाजी के दुकानों पर लोग देखे गए। यहां पर सबसे अधिक संख्या परिवारवालों की रही। लोग अपने परिवार के साथ यहां पहुंचे और चायनीज व्यंजनों और पानीपुरी, भेलपुरी व बटाटापुरी का जमकर आनंद उठाया। वहीं राजधानी के अन्य रस्टूरंट, कपिल इलेवन, होटल सम्राट इंटरनेशनल, डोसा प्लाजा, बसंत बिहार रस्टूरंट में भी लोगों ने लजीज व्यंजनों का स्वाद लिया।ड्ढr ड्ढr मौर्यालोक कांप्लेक्स में नववर्ष मनाने आए दिनेश कुमार सिंह व सुधा सिन्हा ने बताया कि भागदौड़ भरी जिंदगी में कम से कम साल के पहले दिन तो इंवॉय किया जाए। वहीं डोसा प्लाजा में मसाला डोसा का आनंद लेने के बाद सुजीत व अमित ने कहा कि पूर साल तो यहां आना संभव नहीं। इस दिन को बेहतर तरीके से मनाएं कि साल बेहतर गुजर। साथ ही अधिकांश लोगों ने घरों में ही नववर्ष का मजा उठाया। इस मौके पर लजीज पकवान बनवाए गए थे। गुरुवार रहने के कारण शाकाहारी व्यंजनों में खीर, मिठाई व पनीर के व्यंजन प्रमुख रहे। मेले का माहौल था गांधी मैदान के भीतर और बाहरड्ढr पटना (का.सं.)। गोलघर की ऊंचाई मापी, गांधी मैदान में धूप सेंकी, चिल्ड्रेन्स पार्क व श्रीकृष्ण विज्ञान केन्द्र में मस्ती की और एक-दूसर को गले लगाकर कहा ‘हैप्पी न्यू इयर’। गुरुवार को नववर्ष के उल्लास में पूरी तरह डूबी रही राजधानी। सुबह कोहर की चादर में लिपटी सड़कें सूनसान दिखी, लेकिन दिन चढ़ने के साथ खिली धूप ने लोगों को घरों से निकलने को मजबूर कर दिया। गांधी मैदान के भीतर और बाहर मेले का माहौल था। गोलघर परिसर में आर्ट कालेज के छात्रों द्वारा विश्व शांति का संदेश देती बालू की बुद्ध आकृति को देखने बड़ी संख्या में लोग जुटे। इस आकृति को आर्ट कालेज के ध्रुव कुमार और नंद किशोर ने बनाया था, जो पिछले आठ साल से नववर्ष के मौके पर ऐसी आकृतियां बनाते रहे हैं। चिल्ड्रेन्स पार्क और श्रीकृष्ण विज्ञान केन्द्र में भी लोगों की भारी भीड़ थी। शाम तक फैमिली के साथ लोग यहां आते रहे। डीएम कोठी के पास दिनभर ट्रैफिक जाम की स्थिति रही। चिल्ड्रेन्स पार्क में गुरुवार को रिकार्ड संख्या में लोग आए। यहां पांच हाार से ज्यादा लोग आए। यहां आने वालों में बच्चों की खासी तादाद थी। बच्चों ने यहां जमकर झूलों और अन्य राइड्स का मजा लिया। श्रीकृष्ण विज्ञान केन्द्र में भी करीब छह हाार से ज्यादा लोग आए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: युवाओं ने जमकर मचाई धूम