अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीवित होने का प्रमाणपत्र लाएं

सूर्य अस्त, कर्मचारी मस्त लुधियाना के ढंढारीकलां स्टेशन के गार्ड ने तो हद ही कर दी। वे साहब तो डय़ूटी के दौरान ही टल्ली हो गए और ठंड में मुफ्त की दारू लम्बी ही खींच गए। यह तो भला हो नई दिल्ली-ाम्मू झेलम एक्सप्रेस के उस ड्राइवर का, जिसने अपनी सूझबूझ से स्थिति को भांप लिया और किसी भी हादसे से यात्रियों को बचा लिया। आर. के. सिंह, दिल्ली दूध, धूप और कसरत भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के शोध के अनुसार, वैज्ञानिकों का कहना है कि 2015 तक देश में 20 फीसदी महिलाएं व 15 फीसदी पुरुष हड्डियों के चटखने की बीमारी से ग्रस्त होंगे। इसी शोध के अनुसार 66.3 फीसदी लोगों में विटामिन डी की कमी पाई गई है। जिसके लिए जवानी में धूप, दूध और कसरत का नुस्खा लाभप्रद होगा। यदि हम गांवों को छोड़ दें तो शहरों में गगनचुंबी इमारतों के बीच सूर्य देवता भी ‘कन्फ्यूज’ हो जाते हैं कि मैं कहां प्रकट हो सकता हूं? मुझे तो लगता है कि भविष्य में धूप भी इंटरनेट से उपलब्ध होगी। जिसके पास जितनी आईडी उसके पास उसतनी ही धूप। और यदि बात दूध की है तो असली दूध यदि मिल भी गया तो कोई भी दिल्ली वाला उसे आसानी से नहीं पचा पाएगा। राजेन्द्र कुमार सिंह, रोहिणी, दिल्ली

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जीवित होने का प्रमाणपत्र लाएं