DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोचा दो स्कूलों का निरीक्षण अनिवार्य : डीएसइ

सर्व शिक्षा अभियान एवं मिड डे मिल योजना की मॉनिटरिंग के लिए बीइइओ, बीआरपी एवं स्कूल निरीक्षक को रो दो स्कूलों के निरीक्षण का निर्देश दिया गया है। डीएसइ प्रदीप चौबे ने साफ कहा है कि हर माह अधिकारियों को यह प्रमाणपत्र देना होगा कि उन्होंने प्रति कार्य दिवस के दिन दो स्कूलों का निरीक्षण किया। सारी योजनाएं संचालित हैं। इस प्रमाण पत्र के आधार पर ही वेतन की निकासी कोषागार से संभव हो पायेगी।ड्ढr डीएसइ प्रदीप चौबे के अनुसार निरीक्षण के दौरान एमडीएम एवं एसएसए की सभी गतिविधियों की मॉनिटरिंग की जायेगी। इसकी रिपोर्ट रो कार्यालय को फैक्स से उपलब्ध करानी होगी। फैक्स के खर्च का व्यय मध्याह्न् भोजन कोषांग से होगा। रो दो स्कूल का निरीक्षण नहीं करनेवाले पदाधिकारियों पर अनुशासनिक कार्रवाई की जायेगी।ड्ढr आवेदन को अग्रसारित नहीं करं : डीएसइ प्रदीप चौबे ने कहा है कि शिक्षकों के आवेदन एवं अभिलेख पर ही बीइइओ अनुशंसा या अग्रसारित करके कार्यालय को भेज देते हैं। यह विभागीय नियम के प्रतिकूल है। इस कारण अब किसी भी आवेदन पर अनुशंसा या अग्रसारण नहीं करं। डीएसइ के नाम से अलग पत्र दें, इसमें पत्रांक-दिनांक अंकित करना अनिवार्य होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रोचा दो स्कूलों का निरीक्षण अनिवार्य : डीएसइ