DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टल सकता है छात्र संघ चुनाव

रांची यूनिवर्सिटी के चालू सत्र के छात्र संघ चुनाव के टलने की संभावना प्रबल हो गयी है। चुनाव को लेकर संशय बढ़ गया है। एक तरफ कोल्हान एवं पलामू क्षेत्र के छात्र कोल्हान और नीलांबर-पीतांबर यूनिवर्सिटी के वीसी-प्रोवीसी की नियुक्ित के बाद ही चुनाव की मांग कर रहे हैं, इस कारण उस क्षेत्र में मार्च से पहले चुनाव होने की संभावना नहीं है। दूसरी ओर लोकसभा चुनाव भी होने हैं। एसे में यूनिवर्सिटी अधिकारी आशंकित हैं कि आदर्श चुनाव आचार संहिता में चुनाव कैसे होंगे।ड्ढr उधर चालू सत्र के सिर्फ पांच माह बचे हैं। एसे में आम छात्र भी चुनाव नहीं चाहते। उनका कहना है कि यदि अब चुनाव होते हैं, तो उनकी पढ़ाई प्रभावित हो सकती है, क्योंकि अप्रैल-मई से परीक्षाएं शुरू हो जायेंगी।ड्ढr एसे हालात में वीसी प्रो एए खान भी कोई रिस्क लेना नहीं चाहते। उन्होंने कहा कि दूर-दराज के क्षेत्रों से, रांची और जमशेदपुर से भी छात्रों के फोन आ रहे हैं। इस आलोक ने यूनिवर्सिटी ने निर्णय लिया है कि मामले में छात्रों की सलाह ली जायेगी। इसके लिए अगले सप्ताह वीसी छात्र नेताओं के साथ बैठक करंगे।ड्ढr बैठक मौलाना आजाद सीनेट हाल में होगी। इसमें यूनिवर्सिटी, कॉलेज छात्र संघ के पूर्व प्रतिनिधियों और विभिन्न छात्र संगठनों के सदस्यों को भी आमंत्रित किया जायेगा। यूनिवर्सिटी के अधिकारी भी इस पक्ष में नहीं हैं कि छात्रों की पढ़ाई प्रभावित कर चुनाव कराया जाये।ड्ढr रांची यूनिवर्सिटी की गोल्डन जुबली अगले सालड्ढr रांची यूनिवर्सिटी 12 जुलाई 2010 को गोल्डन जुबली मनायेगा। इसकी तैयारी शुरू हो गयी है। वीसी प्रो एए खान ने बताया कि तब तक दीक्षांत मैदान के ऊपर शेड लगा दिया जायेगा। इसी जगह मुख्य समारोह होगा। उस समय तक कई इंस्टीट्यूट और प्रोजेक्ट पूर हो जायेंगे। उसी मौके पर सभी का उद्घाटन किया जायेगा। यूनिवर्सिटी आंतरिक स्रेत से इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्ट्डीा का निर्माण कर रही है। इसके भी उस समय तक पूरा होने की उम्मीद है।ड्ढr स्टाफ क्वार्टर का टेंडर अगले सप्ताह : रांची यूनिवर्सिटी के स्टाफ क्वार्टर का टेंडर आठ जनवरी के बाद होगा। सीसीडीसी डॉ अजीत सहाय के अनुसार तीन करोड़ की लागत से मोरहाबादी कैंपस में 125 क्वार्टरों का निर्माण किया जायेगा। यहां यूनिवर्सिटी हेडक्वार्टर के थर्ड ग्रेड के कर्मचारियों को आवास सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी।ड्ढr आदर्श कॉलेज का प्रस्ताव भेजा गया : राज्य सरकार ने हर जिले में एक आदर्श कॉलेज की स्थापना का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेज दिया है। राष्ट्रीय नॉलेज कमिशन के सुझाव के आलोक में केंद्र सरकार ने सभी राज्यों से इसके लिए प्रस्ताव मांगा था। इसके तहत सरकार ने वैसे जिलों में आदर्श कॉलेज की स्थापना का प्रस्ताव दिया है, जहां बड़े या प्रतिष्ठित कॉलेज नहीं हैं।ड्ढr प्रस्ताव में लोहरदगा, गुमला, सिमडेगा, लातेहार, चतरा, कोडरमा, गोड्डा, पाकुड़ आदि जिलों के नाम शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: टल सकता है छात्र संघ चुनाव