अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नियमों को ताक पर रख ट्रांसफर-पोस्टिंग

ााद्य एवं आपूर्ति विभाग में ट्रांसफर पोस्टिंग में स्थापना समिति के नियमों को ताक पर रख दिया गया। कई आपूर्ति निरीक्षकों, पणन पदाधिकारियों एवं जिला आपूर्ति पदाधिकारियों ने पैरवी के बल पर इच्छानुसार अच्छी जगहों पर अपनी पदस्थापना करा ली। विभाग के पूर्व सचिव महावीर प्रसाद द्वारा जारी कार्यपालक आदेश के तहत जिला के सदर अनुमंडलीय मुख्यालयों में एडीएसओ का पद समाप्त कर दिया गया है, बावजूद इसके मंत्री ने धनबाद के प्रभारी मार्केटिंग अफसर दिनेश कुमार सिंह को प्रभारी एडीएसओ के पद पर पदस्थापित कर दिया। इसी तरह पूर्व में नरन्द्र जन को भी रांची अनुमंडलीय मुख्यालय में प्रभारी एडीएसओ बना दिया गया । स्थिति यह है कि आपूर्ति निरीक्षक सुनील कुमार दुबे 2003 से बाघमारा में थे। हाल ही उन्होंने मुख्यालय में योगदान दिया था, लेकिन पुन: उन्हें बाघमारा भेज दिया गया। रामजीवन सिंह देवरी गिरिडीह में लगभग दो वर्ष से पदस्थापित हैं। इनका तबादला किये बिना ही उनकी जगह संजीव रांन को भेज दिया गया। इधर गिरिडीह सदर में छह साल से पदस्थापित आपूर्ति निरीक्षक अभय श्ांकर प्रसाद को पुन: गांवा गिरिडीह भेजा गया है। एमओ राजेन्द्र सिंह एवं मलय नारायण सिंह को छह महीने के भीतर ही क्रमश: लातेहार और गिदधौर से पुन: उनके पुराने मनचाहे स्थान जमशेदपुर अनुभाजन में भेज दिया गया। बोकारो जिला के आपूर्ति निरीक्षकों को निकटवर्ती रामगढ़ जिला में पदस्थापित किया गया है। मांडू रामगढ़ में मात्र एक साल से पदस्थापित श्री निवास स्िंाह को वहां से हटा दिया गया। वहीं दूसरी ओर रांची जिला में आपूर्ति निरीक्षक नरन्द्र जन छह साल, शंभु गुप्ता चार साल से,मंटू चौधरी पांच साल से बरहरबा में, जगदेव मंडल पांच साल से हुसैनाबाद में जमे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नियमों को ताक पर रख ट्रांसफर-पोस्टिंग