DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक ही नहीं, पूरी दुनिया को सौंपा सबूतों का पुलिंदा

मुंबई में आतंकी हमले पाक में महफूा आतंकियों और उसके नागरिकों की कारस्तानी हैं- इसके सबूत भारत ने सोमवार को पाकिस्तान के साथ-साथ पूरी दुनिया को सौंप दिए। इस बात के सबूत भी दे दिए गए कि हमले की साािश भी पाक की सरामीं से रची गई और साािशकर्ताओं को आखिर तक सहयोग दिया गया। भारत ने कहा है- ‘पाकिस्तान इन षड्यंत्रकारियों को सौंप दे। अब सिर्फ बयानबााी से काम नहीं चलेगा।’ ये सबूत अमेरिका-चीन समेत र्दान भर से यादा देशों को भी दिए गए और आग्रह किया गया कि वे पाकिस्तान पर अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर षड्यंत्रकारियों को भारत के हवाले कराएँ। अमेरिका ने भी पाक पर दोषियों के खिलाफ दबाव बढ़ाया है। पाक ने उसे आश्वासन भी दिया है कि वह भारत से मिले सबूतों कीोाँच कर रहा है औरोल्दी ही अपनाोवाब पेश करगा।ड्ढr भारत ने पाक को मुम्बई हमलों के संबंध में बहुप्रतीक्षित सबूत दो खेपों में सौंपे। सोमवार सुबह भारतीय विदेश सचिव शिवशंकर मेनन ने पाकिस्तानी उच्चायुक्त शाहिद मलिक को बुलाकर कसाब के इकबालिया बयान समेत कई सबूत सौंपे। दोपहर में पाक ने सबूत मिलने की पुष्टि कर दी। शाम को भारतीय उच्चायुक्त सत्यब्रत पाल ने पाक के विदेश सचिव सलमान बशीर को मुम्बई हमलों की ताोाँच रिपोर्ट की फाइल दी। दोनों बार पाक ने यही कहा कि वह खुद भीोाँच कर रहा है और वह भारतीय सबूतों की भीोाँच करगा। हालाँकि पाक ने मुम्बई हमलों मेंोिंदा पकड़े गए फिदाईन कसाब के इकबालिया बयान को प्रामाणिक सबूत मानने से इनकार कर दिया है।ड्ढr पाक पर राानयिक दबाव बढ़ाते हुए भारत ने यही दस्तावे कई और देशों को भी दिए हैं। विदेश सचिव मेनन ने अमेरिका, ब्रिटेन, चीन, आस्ट्रेलिया, क्षराइल, फ्रांस,ोापान,ोर्मनी, तुर्की और कनाडा समेत एक र्दान से यादा देशों के राादूतों और उच्चायुक्तों के साथ विशेष बैठक की। इसमें उन्होंने मुम्बई हमलों की विस्तृतोानकारी दी और अब तक हुईोाँच के बार में बताया। यादातर देशों ने भारत की दलीलों को ‘माबूत और प्रामाणिक’ मानते हुए उसकी तरफदारी की है। अमेरिकी राादूत डेविड सी.मलफोर्ड और आस्ट्रेलियाई उच्चायुक्तोॉन मैक्कार्थी ने भारत की खुली तरफदारी की। चीन ने हालाँकि अब तक अपने रुख का खुलासा नहीं किया है। भारत के दौर पर आए चीन के उपविदेश मंत्री ही याफेई ने इस बार में केवल सबूतों पर गौर करने का आश्वासन दिया है। दुनिया के सामने अपना पक्ष रखने के अगले चरण में दुनिया भर में भारतीय राादूत भी संबद्ध दशों की सरकारों को इस बार मंोानकारी दंग। भारत ने पाकिस्तान से आग्रह किया है कि वह इन सबूतों के आधार पर अपने यहाँोाँच तेाी से आगे बढ़ाए। इसोाँच के परिणामों से भारत को भी अवगत कराए ताकि दोषियों को साा दीोा सके।ड्ढr विदेश मंत्री प्रणव मुखर्ाी ने दुनिया भर के विदेश मंत्रियों को मुम्बई हमलों की पूरीोानकारी देते हुए पत्र लिखा है। इसमें आग्रह किया गया है कि पाक पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का दबाव डालाोाए। भारत न हमलों मं लश्कर का हाथ होन के सबूतों का एक दस्तावा तैयार किया है। इसे गृहमंत्री चिदम्बरम अमरिका यात्रा क दौरान बुश प्रशासन को सौंपेंगे।ड्ढr उधर, सोमवार को पाक पहुँचे अमेरिका के सहायक विदेश सचिव रिचर्ड बाउचर प्रधानमंत्री यूसुफ राा गिलानी और विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से मिले। उनकी बातचीत के बार में आधिकारिक तौर पर कोई भीोानकारी नहीं दी गई। लेकिन पाकिस्तानी खबरिया चैनलों के मुताबिक बाउचर को भरोसा दिलाया गया है कि सबूतों कीोाँच पूरी होते ही पाकिस्तानोवाब देगा। कुरैशी और गिलानी पहले एक साथ बाउचर से मिलने वाले थे लेकिन भारत से सबूत मिलने के बाद कुरैशी अपने ऑफिस में ही रुके रहे। अमरिका क नवनिर्वाचित उप राष्ट्रपतिोोसेफ बिडन भी इस सप्ताहांत दो दिवसीय यात्रा पर इस्लामाबाद पहुँच रह हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पाक ही नहीं, पूरी दुनिया को सौंपा सबूतों का पुलिंदा