DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दोषियों को सजा देने का हक भारत को:एफबीआई

मुंबई के आतंकी हमलों की जांच में साझा सहयोग की एक और नजीर पेश करते हुए अमेरिकी संघीय जांच एजेंसी एफबीआई ने कहा है कि वह इन हमलों के जिम्मेदार पाक स्थित आतंकी सरगनाओं की कस्टडी नहीं मांगेगी क्योंकि हमले के वांछित इन गुनाहगारों को सजा देने का हक भारत को ही है। गौरतलब है कि मुंबई हमलों में छह अमेरिकी नागरिक भी मार गए थे और एफबीआई चाहे तो पाकिस्तान में बैठे इन अपराधियों की कस्टडी मांग सकती है। वैसे भी अमेरिकी संघीय कानूनों के अनुसार, एफबीआई को विश्व के किसी भी कोने में घटने वाली उस घटना की जांच करने, चार्जशीट दाखिल करने और दोषियों को सजा दिलाने का अधिकार है जिसमें अमेरिकी नागरिक मारे गए हों। जांच एजेंसी के एक प्रवक्ता ने कहा कि इस कड़ी में एफबीआई भारतीय जांचकर्ताओं को पूरा सहयोग देगी और जहां तक दोषियों को सजा देने का प्रश्न है तो इसका पूरा अधिकार भारत को है। हम इसमें हस्तक्षेप नहीं करेंगे। प्रवक्ता ने बताया कि इसी कारण एफबीआई इस मामले में अलग से कोई केस दर्ज नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि हत्या के गुनाहगारों को पकड़ कर सजा दिलाने की कोई समय सीमा नहीं होती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दोषियों को सजा देने का हक भारत को:एफबीआई