अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएसएल में हादसा, दो अफसरों की मौत

बोकारो इस्पात संयंत्र के हॉट स्ट्रिप मिल में गुरुवार को एक दुर्घटना में सहायक महाप्रबंधक समेत दो अधिकारियों की मौत हो गयी। बोकारो इस्पात प्रबंधन ने इस घटना की जांच प्रारंभ कर दी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बोकारो इस्पात के जनरल मेंटेनेंस मैकेनिकल विभाग में सहायक महाप्रबंधक के पद पर कार्यरत डी राव एवं कनीय प्रबंधक नीलकंठ बाल्सर गुरुवार को लगभग 3.30 बजे एसबेस्टस की छत का निरीक्षण कर रहे थे। निरीक्षण क्रम में अचानक एसबेस्टस टूट गया। दोनों अधिकारी नीचे गिर पड़े। एजीएम डी राव नीचे गड्ढे में जा गिर, जबकि नीलकंठ बाल्सर जमीन पर गिर। इसके कारण डी राव की घटनास्थल पर मौत हो गयी। गंभीर रूप से जख्मी नीलकंठ बाल्सर को बोकारो जनरल अस्पताल के क्रिटीकल केयर यूनिट लाया गया। जहां भर्ती होने के कुछ देर बाद उन्होंने दम तोड़ दिया। जानकारी के अनुसार हाल में हुए अनुरक्षण के काम का निरीक्षण करने के लिए दोनों अधिकारी ऊपर चढ़े थे। जहां से गिरने के कारण उनकी मौत हो गयी। बोकारो इस्पात प्रबंधन ने घटना की जांच के लिए दो सदस्यीय कमेटी गठित की है। इसके सदस्य पी नारायण जीएम सेफ्टी व एएन पांडेय एजीएम सेफ्टी बनाये गये हैं। घटना की खबर लगते ही बीजीएच में इस्पातकर्मियों की भीड़ उमड़ पड़ी। बीजीएच परिसर में उपस्थित आफिसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ पीके पांडेय व महासचिव एके सिंह ने घटना को दुखद बताया। कहा कि बोकारो स्टील ने दो अनुभवी टेक्नोक्रेट खो दिया है। श्री सिंह ने बोकारो इस्पात प्रबंधन को अनुरक्षण पर विशेष ध्यान देने की सलाह दी है। वहीं क्रांतिकारी इस्पात मजदूर संघ के महामंत्री सह एनजेसीएस के सदस्य राजेंद्र सिंह ने घटना का कारण प्रबंधन की लापरवाही बताया। कहा कि एसबेस्टस का नट खुला हुआ था। इसके कारण दोनों अधिकारी नीचे गिर पड़े।ड्ढr गोड्डा में विस्फोट पांच बच्चे घायलड्ढr गोड्डा (नि.प्र.)। गोड्डा बाजार के मुख्य कारगिल चौक पर हुए बम बिस्फोट में पांच बच्चे सहित सात लोग घायल हो गए हैं। घटना संध्या सवा सात बजे की है। मुख्य चौक स्थित मो. अरुमगाम की दुकान के बाहर एक लगी चौकी लगी हुई थी। उस पर कुछ बच्चे बैठे हुए थे। अचानक चौकी के नीचे जोरदार धमाका हुआ जिसमें उस पर बैठे बच्चे एवं पड़ोस के दुकानकदार घायल हो गए। बिस्फोट में घायल मो. आफताब आलम (8), पिता इबरार आलम रौतास चौक, मो. आसिफ (8) पिता मो. करीम गुजलजारबाग, राजेन्द्र मोदी (50), मो. सादिक (10) पिता अब्दुस सलाम दोनों चपरासी मोहल्ला, मो. आर्यन (पिता मो. बदर खान, चपरासी टोला, मो. प्रिंस (14) पिता मो. जफर असनवनी, मो. नसीरउद्दीन (14) सभी को असानबन्नी के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बीएसएल में हादसा, दो अफसरों की मौत