DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नजरें रायसीना हिल पर, विशेषज्ञों से मिलेंगी राष्ट्रपति

वीं लोकसभा में खंडित जनादेश के पूर्वानुमानों के बीच राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल शीर्ष संविधान विशेषज्ञ अशोक देसाई से मुलाकात करेंगी। राष्ट्रपति कार्यालय में नियुक्त विशेष कार्य अधिकारी अर्चना दत्ता ने कि राष्ट्रपति आज शाम 5.30 बजे पूर्व अटार्नी जनरल अशोक देसाई से मुलाकात करेंगी दत्ता ने बताया कि राष्ट्रपति अगले कुछ दिनों में अन्य संविधान विशेषज्ञों से भी मुलाकात करेंगी। इनमें फाली एस. नरीमन और सोली सोराबजी शामिल हैं। वरिष्ठ अधिवक्ता और संविधान विशेषज्ञ अनिल दीवान ने बताया कि यह राष्ट्रपति पर निर्भर करता है कि वह अकेली सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने का न्योता देती हैं या सबसे बड़े चुनाव पूर्व गठबंधन को। संविधान इस मामले में खामोश है कि खंडित जनादेश की स्थिति में किसे सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जाए। दीवान ने कहा कि यह राष्ट्रपति पर निर्भर करता है कि वह किसे स्थिर सरकार बनाने के योग्य समझती हैं। एक अन्य संविधान विशेषज्ञ के.के. वेणुगोपाल के मुताबिक दो ही रास्ते हैं या तो राष्ट्रपति सबसे बड़े इकलौते दल को आमंत्रित करें या फिर सबसे बड़े चुनाव पूर्व गठबंधन को। परंपरा के मुताबिक राष्ट्रपति इन दोनों में से किसी एक को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित कर निर्धारित अवधि में बहुमत साबित करने को कह सकती हैं संयोगवश दोनों में कोई बहुमत साबित नहीं कर पाता तो नए चुनावों के अलावा कोई विकल्प नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नजरें रायसीना हिल पर, विशेषज्ञों से मिलेंगी राष्ट्रपति