DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजू का सरंेडर, सत्यम बोर्ड भंग

सत्यम कंप्यूटर्स के पूर्व सीईओ रामलिंगा राजू ने शुक्रवार देर रात आत्मसमर्पण कर दिया। उधर, सरकार ने सत्यम कंप्यूटर के मौजूदा बोर्ड को खारिा करते हुए शनिवार को होने वाली बोर्ड-बैठक को भी निरस्त कर दिया है। कंपनी मंत्रालय के इस आदेश के बाद अब अगली घोषणा तक सत्यम बोर्ड कोई भी कदम नहीं उठा सकता। कंपनी मामलों के मंत्री प्रेमचंद गुप्ता ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि सरकार जल्द ही 10 लोगों का बोर्ड बनाएगी।ड्ढr ड्ढr नए बोर्ड में आईटी क्षेत्र के विशेषज्ञों को भी शामिल किए जाने की संभावना है। नये बोर्ड की बैठक अगले सात दिन में होगी। इस बैठक में ही फैसला किया जाएगा कि सरकार सत्यम कंप्यूटर का प्रबंधन अपने हाथ में लेगी या नहीं। प्रेम चन्द गुप्ता ने यह भी बताया कि प्राइस वाटर हाउस के खिलाफ भी जांच की जा रही है। यदि उसे दोषी पाया गया तो देश में उसके काम करने पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कंपनी अपना काम बाकायदा करती रहेगी। दूसरी तरफ सत्यम के कर्मचारियों के लिए मुसीबत खड़ी हो गई है। कंपनी ने सभी कर्मचारियों को ईमेल भेजा है जिसमें लिखा गया है कि उन्हे अगले दो महीने तक वेतन नहीं मिलेगा। ईमेल में कंपनी ने कर्मचारियों को धैर्य रखने की सलाह दी है। सत्यम ने छुआ 6.30 का भाव : उधर इस सारी कवायद के बीच शेयर बाजार में सत्यम के शेयर ने बाजार खुलते के साथ ही एक लंबा गोता लगा दिया। गुरुवार की तुलना में एनएसई पर यह 85 फीसदी गिरकर 6 रुपये 30 पैसे पर आ गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजू का सरंेडर, सत्यम बोर्ड भंग