खिलाड़ी कुमार का खेल थमने लगा है - खिलाड़ी कुमार का खेल थमने लगा है DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खिलाड़ी कुमार का खेल थमने लगा है

खिलाड़ी कुमार का खेल थमने लगा है

फराह खान और अक्षय कुमार ‘तीस मार खां’ को क्रिसमस पर रिलीज के लिए इतने ओवर कांफिडेंट थे कि वे समझते थे कि उनकी इस फिल्म के सामने कोई और फिल्म रिलीज होगी ही नहीं, जैसे आमिर खान की फिल्म के सामने कोई और फिल्म रिलीज होने की हिम्मत नहीं दिखाती। इस बार क्रिसमस पर धर्मेन्द्र अपनी फिल्म ‘यमला पगला दीवाना’ रिलीज करना चाह रहे थे, मगर अक्षय ने धर्मेन्द्र-सनी से अपने पंजाबी भाई होने का वास्ता दे फिल्म को 14 जनवरी के लिए खिसका दिया था। पर इस सबका ‘तीस मार खां’ को कोई फायदा नहीं हुआ। यहां तक अक्षय से न राजश्री वाले डरे और न अजय देवगन। और तो और दो और छोटी फिल्में भी ‘तीस मार खां’ के सामने रिलीज हुईं। यह अलग बात है कि फिल्म चली कोई भी नहीं।

उधर अक्षय कुमार के सितारे भी पिछले काफी समय से खराब चल रहे हैं। अक्षय कुमार अच्छे एक्टर हैं, इस बात में कोई शक नहीं। अक्षय ने अपने अच्छे वक्त में एक से एक अच्छी और हिट फिल्में दी हैं। अपनी हिट फिल्मों के कारण वह खिलाड़ी कुमार भी कहलाए और ‘सिंह इज किंग’ भी। आज भी अक्षय कुमार के पास फिल्मों की कमी नहीं है। पर इन दिनों अक्षय कुमार की फिल्में जिस प्रकार फ्लॉप हो रही हैं, उससे अक्षय तो घबराए हुए हैं ही, बॉलीवुड में भी हड़कंप सा मच गया है। क्योंकि अक्षय की एक फिल्म ‘पटियाला हाउस’ तो 11 फरवरी को ही आ रही है। उसके बाद अक्षय की इस बरस ‘थैंक यू’, ‘देसी बॉएज’, ‘हाउसफुल-2’ और ‘जोकर’ जैसी फिल्में भी आने की तैयारी में हैं। लेकिन लगातार असफलता से मार्केट वैल्यू गिरने में देर नहीं लगती। इसी के चलते आज कई हिट हीरो-हीरोइन अपने घर बैठ टीवी देख-देख कर टाइम पास कर रहे हैं। अक्षय की मुसीबत भी यही है कि उनकी पिछले तीन बरसों में 12 फिल्मों में से सिर्फ दो फिल्में ही चल पाईं हैं, बाकी 10 फिल्में फ्लॉप हो गई हैं। इससे बड़ा झटका किसी स्टार के लिए कोई और नहीं हो सकता।

अक्षय कुमार की आखिरी सुपर हिट फिल्म ‘सिंह इज किंग’ सन् 2008 में आई थी। उस बरस भी अक्षय की दो फिल्में ‘टशन’ और ‘जम्बो‘ फ्लॉप हो गई थीं। सन् 2009 में अक्षय की पांच फिल्में थीं- ‘चांदनी चौक टू चाइना’, ‘810 तस्वीर’, ‘कमबख्त इश्क, ‘ब्लू’ और ‘दे दना दन’। लेकिन इनमें से एक फिल्म भी नहीं चली। अक्षय को उम्मीद थी कि लगातार लगते असफलता के दाग सन् 2010 में मिट जाएंगे, लेकिन इस बरस रिलीज उनकी चार फिल्मों में से भी सिर्फ एक ‘हाउसफुल’ ही कुछ हिट रही, बाकी तीन फिल्में ‘खट्टा मीठा’, ‘एक्शन रीप्ले‘ और ‘तीस मार खां’ हवा में उड़ गईं। ‘एक्शन रीप्ले’ और ‘तीस मार खां’ की नाकामी से अक्षय को ‘जोर का झटका जोरों से लगा’ है। ‘तीस मार खां’ पर क्रिसमस का मैजिक टच न चलना तो अक्षय के लिए और भी दुखदायी हुआ।

यूं अक्षय की फिल्म कुंडली देखी जाए तो एक अपवाद को छोड़ क्रिसमस उनके लिए अनलकी ही रहा है। पिछले 11 वर्षों में अक्षय की 8 बार क्रिसमस पर फिल्में रिलीज हुई हैं, लेकिन 7 क्रिसमस पर रिलीज उनकी फिल्में धराशाई हुईं। मसलन सन् 1999 में ‘जानवर’, सन् 2000 में ‘खिलाड़ी 420’, सन् 2004 में ‘अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों’, सन् 2005 में ‘दोस्ती’, 2006 में ‘भागमभाग’, 2008 में ‘जम्बो’ और 2010 में ‘तीस मार खां’। सिर्फ सन् 2007 के क्रिसमस पर लगी उनकी फिल्म ‘वेलकम’ ही हिट हुई, पर उसमें भी अक्षय अकेले स्टार नहीं थे, वह मल्टी स्टार फिल्म थी।

अपनी इन लगातार असफलताओं से निश्चय ही इस खिलाड़ी कुमार को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। उधर टीवी पर अक्षय के होस्ट के रूप में आया ‘मास्टर शेफ’ भी फ्लॉप शो साबित हुआ। उनकी अगली फिल्म ‘पटियाला हाउस’ के प्रोमो से भी निराशा दिख रही है। फिर भी हम चाहेंगे कि अक्षय कुमार जल्द अपनी नाकामी से उबर कर फिर से ‘खिलाड़ी’, ‘मोहरा’, ‘धड़कन’, ‘हेरा फेरी’, ‘एतराज’, ‘वक्त’ और ‘नमस्ते लंदन’ जैसी हिट फिल्में दें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खिलाड़ी कुमार का खेल थमने लगा है