अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समाज को अच्छाइयां दें : रव्ह सैम

मसीह की बुलाहट व्यक्ितगत है,ाो समय, परिवेश और भौगोलिक दायर से बाहर है। यह बुलाहट जीवन में समर्पित और प्रतिफल युक्त होनी चाहिए। उक्त संदेश मुख्य वक्ता रव्ह डॉ सैम कमलेशन ने दी। वह मंगलवार को क्रिश्चियन लीडर्स कांफ्रेंस के दूसर दिन बोल रहे थे। उन्होंने मसीही अगुवों के लिए तीन अहम बातों पर चर्चा की।ड्ढr उन्होंने मसीह के चेले होने के लिए बुलाहट, समर्पण-निर्णय और इसके बाद जीवन में प्रतिफल लाने की बात कही। उन्होंने जीवन की अच्छाइयों को ही लक्ष्य निर्धारित करने को कहा। कहा कि हमारा लक्ष्य यही होना चाहिए कि हम देश परिवार और समाज को अच्छाइयां दें। इस अवसर पर नेशनल प्रेयर नेटवर्क के संयोजक पैट्रिक जोशुवा ने कहा कि हमारी प्रार्थना अपने राष्ट्र के साथ प्रशासन और सरकार के लिए भी होनी चाहिए। दूसर सत्र की वक्ता प्रो. सुहासिनी मरांडी ने महिला सशक्ितकरण पर चर्चा की। कानूनविद् पीएनएस सुरीन ने आदिवासी पहचान और परंपरागत कानून की चर्चा की। सत्र का समापन डॉ रव्ह सैम कमलेशन की प्रार्थना से की गयी। समारोह में काफी लोग उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: समाज को अच्छाइयां दें : रव्ह सैम