DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीड़ित पत्रकार के परिचानों से मिले सांसद, घटना की निंदा

बिहार में सुशासन कुशासन की सरकार है। जहां अपराधी पुलिस की साठगांठ से सरआम अपराध करता है और बच निकलता है। उक्त बातें सांसद रामकृपाल यादव ने सोमवार को पत्रकार राकेश प्रवीर के घर डकैती की घटना की जानकारी लेते हुए कहीं। उन्होंने कहा कि राजधानी हो या राज्य की अन्य जगह अपराध चरम पर है। अब बुद्धिाीवी वर्ग अपराधियों के निशाने पर है। इधर सोमवार को सुबह एएसपी गरिमा मल्लिक ने घटनास्थल की जांच-पड़ताल करने के बाद कहा कि मामला लूटपाट का नहीं आपसी विवाद में मारपीट का है। दोनों पक्षों ने एक दूसर के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। वहीं घटना में घायल पत्रकार की पत्नी पूनम पांडेय को सदर अस्पताल से पीएमसीएच रफर कर दिया गया। घटना के बाद से पूनम पांडेय को खून की उल्टी होने से हालत खराब होती जा रही है। सोमवार को राजद के प्रदेश महासचिव, भाई सनोज यादव, नगर अध्यक्ष सह वार्ड पार्षद सुबोध राय, महानगर युवा अध्यक्ष छोटू सिंह, सांसद प्रतिनिधि नौशाद हासमी आए व पीड़ित परिवार से मिलकर घटना की घोर निंदा की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पीड़ित पत्रकार के परिचानों से मिले सांसद, घटना की निंदा