DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ेंआज से अराजपत्रित कर्मी हड़ताल पर

केंद्रीय वेतनमान के बकाया भुगतान सहित 11 सूत्री मांगों को लेकर राज्य 52 कर्मचारी संगठनों के करीब ढाई लाख अराजपत्रित कर्मचारी 13 जनवरी से बेमियादी हड़ताल पर चले जायेंगे। हड़ताल की पूर्व संध्या पर सोमवार को कर्मियों ने मशाल जुलूस निकाला। सव्रे मैदान से निकला जुलूस अलबर्ट एक्का चौक पहुंच सभा में तब्दील हो गया, जहां सीएम का पुतला भी फूंका गया।ड्ढr जुलूस का नेतृत्व कर रहे अराजपत्रित कर्मचारी महासंघों की संघर्ष समिति के रामाधार शर्मा, शिवदानी सिंह, अशोक सिंह, कपिल शर्मा, तारिणी प्रसाद, महेश कुमार, मधुसूदन ठाकुर, सुभाष चंद्र ने सभा को भी संबोधित किया। इस बीच झारखंड राज्य कर्मचारी महासंघ के एक गुट ने 13 को हड़ताल पर जाने का इरादा बदल दिया है। महासंघ के महासचिव विद्यानंद विद्यार्थी ने बताया कि फिलहाल राज्य में किसी की सरकार नहीं है। ऐसी स्थिति में मांगों पर विचार कौन करगा। अब उनका गुट 11 फरवरी से हड़ताल पर जायेगा, जबकि अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ (गोप गुट) ने तीन फरवरी से हड़ताल पर जाने की घोषणा की है। अखिल झारखंड कर्मचारी महासंघ ने बैठक कर 13 जनवरी से आहूत हड़ताल से अलग रहने को घोषणा की। संघ के ब्रजेंद्र हेमरोम ने यह जानकारी दी। झारखंड भूमि सुधार कर्मचारी संघ, अभियंत्रण कर्मचारी संघ, जनसेवक संघ, चिकित्सा एवं जन स्वास्थ्य कर्मचारी संघ, भू-माप बंदोबस्त कर्मचारी संघ, बाल विकास परियोजना अराजपत्रित कर्मी संघ, अनुसचिवीय कर्मचारी संघ ने भी हड़ताल में शामिल होने की घोषणा की है। वाणिज्य कर कर्मचारी संघ के बालेश्वर सिंह ने कहा है कि वे लोग हड़ताल को नैतिक समर्थन दे रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ेंआज से अराजपत्रित कर्मी हड़ताल पर