DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिम्मेदार राष्ट्र की भूमिका निभाए पाक : मिलीबैंड

ब्रिटेन ने मंगलवार को पाकिस्तान को सलाह दी कि वह इतिहास की सही गलत घटनाआें का राग अलापने की बजाय आतंकवाद की मौजूदा समस्या का मुकाबला करे। भारत यात्रा पर आए ब्रिटेन के विदेश मंत्री डेविड मिलीबैंड ने कश्मीर समस्या की आेर संकेत करते हुए कहा कि पाकिस्तान के नेताआें को चाहिए कि वे इतिहास की सही-गलत घटनाआें की दुहाई देने की बजाय आतंकवाद के खतरे का मुकाबला करें क्योंकि इसी पर पाकिस्तान का भविष्य टिका है। मिलीबैंड ने विदेशमंत्री प्रणव मुखर्जी के साथ यहां द्विपक्षीय वार्षिक विदेश मंत्री वार्ताआें में भाग लिया। बाद में दोनों विदेशमंत्रियों ने एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पाकिस्तान की यह जिम्मेदारी है कि वह भारत द्वारा उपलब्ध कराए गए सबूतों को ध्यान में रखते हुए आतंकवाद की समूल खत्म करे। दोनों देशों ने पाकिस्तान से आग्रह किया कि वह मुंबई आतंकवादी हमले के दोषियों को दंडित करने में सहयोग प्रदान करे। मिलीबैंड ने कहा कि वह मानते हैं कि मुंबई हमलों में पाकिस्तान की सरकारी मशीनरी शामिल नहीं थी, लेकिन वहां सक्रिय संगठन लश्करे तैय्यबा निश्चित रूप से जिम्मेदार था। पाक सरकार की जिम्मेदारी है कि वह लश्करे तैयबा से जुड़े आतंकवादियों को गिरफ्तार करे ताकि उन्हें कठघरे में खड़ा किया जा सके। मुखर्जी ने कहा कि मुम्बई हमलों को भारत-पाकिस्तान के द्विपक्षीय संबंधों के नजरिए से नहीं देखा जाना चाहिए। ये हमले अन्तरराष्ट्रीय आतंकवाद का एक रूप थे। उन्होंने विश्वसमुदाय द्वारा भारत के साथ एकजुटता प्रदर्शित किए जाने पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि दक्षेस आतंकवाद विरोधी समझौते और अन्य अंतरराष्ट्रीय प्रतिबद्धताआें से जुड़ा होने के कारण पाकिस्तान पर यह जिम्मेदारी है कि वह आतंकवादी तत्वों के खिलाफ कार्रवाई करे। मुखर्जी ने आशा व्यक्त की पाकिस्तानी सरकार मुंबई हमलों के बारे में भारत द्वारा उपलब्ध कराए गए साक्ष्यों पर कार्रवाई करेगा ताकि दोषियों को कठघरे में खड़ा किया जा सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जिम्मेदार राष्ट्र की भूमिका निभाए पाक: मिलीबैंड