DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दफ्तरों के भीतर वीरानी, बाहर नारबाजी

अराजपत्रित कर्मचारियों की हड़ताल के कारण रांची समाहरणालय में सन्नाटा पसरा रहा। प्रात: 10.15 बजे तक अधिकांश कार्यालयों में ताला लगा था। 10.30 बजे उपायुक्त राजीव अरुण एक्का पहुंचे। उनका कार्यालय कक्ष खुला था, लेकिन कर्मचारी काम पर नहीं थे। उपायुक्त लगभग दो घंटे तक कार्यालय में रहे और टेबुल पर पड़ी फाइलों का निबटारा किया। अपर दंडाधिकारी (विधि-व्यवस्था) के श्रीनिवासन, डीएसओ वीरंद्र कुमार सिंह सहित अन्य अधिकारी भी समय पर कार्यालय पहुंचे, लेकिन कर्मचारियों की हड़ताल के कारण वे कोई काम नहीं कर सके। एक-डेढ़ घंटा कार्यालय में रहने के बाद अधिकांश अफसर घर निकल गये। दोपहर एक बजे से समाहरणालय में सन्नाटा पसर गया। हड़ताल से शिक्षा विभाग का काम ठपसंवाददाता रांची अराजपत्रित कर्मचारियों की हड़ताल के कारण 13 जनवरी को जिला शिक्षा विभाग का काम पूरी तरह ठप रहा। हालांकि कर्मचारी नियत समय पर कार्यालय पहुंचे। काम जसे शुरू हुआ, तभी कर्मचारी संगठनों का एक जत्था कार्यालय पहुंच कर काम ठप करा दिया।ड्ढr नारबाजी करते हुए कर्मचारी सभी कार्यालय में घूम-घूम कर हड़ताल में शामिल होने की अपील कर रहे थे। कर्मचारियों का तेवर देखते हुए अधिकारी भी कार्यालय से बाहर आ गये। आधा घंटा तक माइक से कर्मचारियों ने हर जिले में हड़ताल की सफलता की बात कहते रहे। कर्मचारियों के निकलने के थोड़ी देर के बाद पुलिस भी वहां पहुंची।ड्ढr तीन से हड़ताल की चेतावनीड्ढr रांची। झारखंड राज्य कर्मचारी महासंघ के महासचिव कमल किशोर यादव, केंद्रीय प्रवक्ता आदिल जहीर ने कहा है कि अगर सरकार 26 जनवरी तक छठा वेतनमान एवं आर्थिक लाभ दिये जाने की अधिसूचना नहीं जारी करती है, तो वे लोग तीन फरवरी से हड़ताल पर चले जायेंगे।ड्ढr नेताओं ने अराजपत्रित कर्मचारियों की हड़ताल को विफल करार दिया। कहा कि राज्य में कार्यालयों में आम दिनों की तरह ही काम हुआ।ड्ढr गोप गुट ने विफल कहाड्ढr रांची। झारखंड राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ (गोप गुट) ने कहा है कि हड़ताल को कर्मचारियों ने खारिा कर दिया है। वे लोग अपनी मांगों को लेकर तथा शिक्षक-कर्मचारी-पदाधिकारी संघर्ष समिति के अह्वान पर तीन फरवरी से हड़ताल पर जायेंगे। संघ के अंजनी कांत झा, नरश राम, धरणीधर प्रसाद सिंह, सत्येंद्र कुमार, संजय कुमार, योगेंद्र पोद्दार, संजय सिन्हा, अरुण कुमार सिन्हा ने हड़ताल को विफल बताया है।ड्ढr भूमि सुधार कर्मचारी संघड्ढr रांची। झारखंड राज्य कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर झारखंड राज्य भूमि सुधार कर्मचारी संघ के सदस्य भी हड़ताल पर डटे रहे। अध्यक्ष संतोष शुक्ला और महामंत्री भरत कुमार सिन्हा के नेतृत्व में रातू, कांके, नामकुम, मांडर समेत अन्य अंचल कार्यालयों का दौरा कर हड़ताल की जानकारी ली गयी।ड्ढr सम्मेलन 23 कोड्ढr रांची। ग्राम रक्षा दल का सम्मेलन 23 जनवरी को सव्रे मैदान में होगा। यह जानकारी महामंत्री संजय कुमार पांडेय ने दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दफ्तरों के भीतर वीरानी, बाहर नारबाजी