अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान से कारोबारी रिश्ते तोड़ देंगे

गृहमंत्री पी. चिदंबरम ने कहा है कि अगर पाकिस्तान ने मुंबई हमले की जाँच में सहयोग नहीं किया तो भारत उसके साथ अपने पर्यटन, परिवहन और कारोबारी संबंधों को समाप्त कर सकता है। उन्होंने पाकिस्तान को आगाह किया कि वह शीघ्र ही जाँच में सहयोग करने के अपने वादे को निभाए। पी. चिदंबरम ने ‘टाइम्स’ को दिए साक्षात्कार में कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच कई सारी संधियाँ और समझौत हैं। अगर पाकिस्तान मुंबई हमले के दोषियों को सजा दिलवाने में सहयोग नहीं करता है तो ये समझौते कमजोर पड़ सकते हैं और इनके खत्म होने की भी नौबत आ सकती है। उन्होंने फिलहाल यह नहीं बताया कि सरकार इस तरह की कार्रवाई कब करगी लेकिन यह जरूर कहा कि हम शीघ्र ही पाक से सहयोग की उम्मीद कर रहे हैं। मुंबई हमले के दोषियों के खिलाफ कोई भी कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि भारत के सबूत देने के बाद भी इस्लामाबाद ने कुछ नहीं किया है। जब उनसे यह पूछा गया कि क्या पाकिस्तान जाँच में मदद कर रहा है तो उन्होंने कहा कि बिल्कुल भी नहीं। उन्होंने हमें कुछ भी उपलब्ध नहीं कराया है। दूसरी ओर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री गिलानी ने दावा किया कि भारत की ओर से मुंबई धमाकों के संबंध में सिर्फ सूचनाएँ दी गई हैं, सबूत नहीं। मुंबई हमले की गवाह लापताड्ढr मुंंबई (एजेंसी)। मुंबई पर आतंकवादी हमलों की वह गवाह लापता हो गई है जिसने आतंकवादियों को शहर के तट पर उतरते देखा था। पुलिस ने मंगलवार को बताया कि 26 नवंबर को कफ परेड में मछुआरों के मोहल्ले में दस आतंकवादियों को पहुंचते देखने वाली अनिता उदैया 11 जनवरी से लापता है। पुलिस न कहा कि उन्होंने लापता गवाह की खोजबीन के लिए अभियान छेड़ दिया है। इससे पहले अनिता को मारे गए आतंकवादियों की शिनाख्त के लिए जेजे अस्पताल ले जाया गया था। उदैया की बेटी ने अपनी मां की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। इस बीच मुंबई हमलों की जांच कर रही पुलिस की अपराध शाखा ने भी इस मामले में अपनी जांच शुरू कर दी है। संयुक्त पुलिस आयुक्त राकेश मारिया न कहा-हम महिला के लापता होन की भी जांच कर रहे हैं क्योंकि वह इस मामले में गवाह है।ड्ढr ड्ढr उन्होंने कहा-हालांकि उदैया इस हमले में गिरफ्तार आतंकवादी मोहम्मद अजमल आमिर कसाब के मुकदमे में प्रमुख गवाह नहीं है। उधर एमएल तहलियानी को मुंबई हमले से जुड़े मामल की सुनवाई के लिए विशेष न्यायाधीश नियुक्त किया गया है। नगर के पुलिस आयुक्त हसन गफूर ने सोमवार रात बताया कि तहलियानी मोहम्मद आमिर अजमल कसाब के खिलाफ दर्ज 12 मामलों में मुकदम की सुनवाई करेंगे। कसाब मुंबई हमले से जुड़ा एकमात्र आतंकवादी है जिसे जिंदा गिरफ्तार किया गया था। सीबीआई अदालत के पूर्व न्यायाधीश तहलियानी फिलहाल बंबई उच्च न्यायालय में रजिस्ट्रार हैं। मुंबई में 1में हुए बमकांड में सरकारी अधिवक्ता रहे उज्ज्वल निकम को पहले ही लोक अभियाजक नियुक्त किया जा चुका है। उम्मीद की जा रही है कि पुलिस 24 जनवरी से पहले आरोप पत्र दाखिल करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पाकिस्तान से कारोबारी रिश्ते तोड़ देंगे