अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छह युवक मलेशिया में बंधक

मलेशिया में नौकरी करने के लालच में गए बोधगया के छह युवक अब वापसी की गुहार लगा रहे हैं। वे दलालों से लूटे जा चुके हैं और मलेशिया जैसे अजनबी देश में बंधक बना लिए गए हैं। इनमें से कोई भी अंग्रजी भाषा नहीं जानता है। ये साक्षर भी नहीं है। युवकों के परिजनों ने इस संबंध में गया के आरक्षी अधीक्षक एमआर नायक से संपर्क किया है। एसपी ने बताया कि इस बार में आगे की कार्रवाई के लिए राज्य सरकार को सूचित किया जा रहा है।ड्ढr ड्ढr बोधगया प्रखंड के इटरा गांव निवासी हैज खान, परवेज खान, तनवीर खान, मोहताब खान, अमिरूद्दीन खान तथा हथियार गांव के अफरोज खां (सभी 23 से 30 वर्ष के) ने विगत 22 अप्रैल को नई दिल्ली से मलेशिया के लिए उड़ान भरीं। इटरा के शमशीर आलम के मुताबिक उक्त सभी युवक पटना के किसी तरुण नाम के दलाल के माध्यम से मलेशिया गए। अच्छी तनख्वाह वाली नौकरी दिलाने के नाम पर इनसे मोटी रकम भी वसूली गई।ड्ढr बताया जा रहा है कि इंडिया से मलेशिया तक उन युवकों से दलालों ने करीब 80-80 हजार रुपए ऐंठे। मलेशिया में किसी तरह फोन से उक्त बंधक युवकों ने इसकी सूचना अपने घरवालों को भेजी है। दलाल उन्हें एक माह के भ्रमण वीजा पर ले गए थे। बताया जा रहा है कि यह अन्तरराष्ट्रीय गिरोह अब इन सभी से वापस इंडिया आने के बदले में पच्चास -पच्चास हजार रुपए की मांग कर रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छह युवक मलेशिया में बंधक