अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैट्रिक-इंटर में रिकार्ड 5.78 लाख परीक्षाथी

अलग राज्य गठन के बाद पहली बार मैट्रिक-इंटरमीडिएट परीक्षा में रिकार्ड 5,78,56परीक्षार्थी शामिल होंगे। पिछली बार की तुलना में इस बार 36 हाार ज्यादा परीक्षार्थियों ने रािस्ट्रेशन कराया है। 21 फरवरी से शुरू हो रही यह परीक्षा छात्रों के दृष्टिकोण से कई मायने में महत्वपूर्ण है। पहली बार छात्रों को मिलनेवाली माक्र्सशीट में फेल शब्द हटा दिया गया है। ऐसा छात्रों का तनाव कम करने के लिए झारखंड एकेडेमिक कौंसिल ने किया है। अब ग्रेडिंग सिस्टम लागू कर दी गयी है।ड्ढr पिछले साल की तरह ही इस बार भी छात्रों को प्रश्नपत्र पढ़ने के लिए 15 मिनट का अतिरिक्त समय मिलेगा। रो पहली पाली में मैट्रिक एवं दूसरी पाली में इंटरमीडिएट की परीक्षा होगी। साथ ही किसी विषय में खराब नंबर आने पर छात्र कंपार्टमेंटल परीक्षा के जरिये उसे बेहतर कर सकेंगे।ड्ढr कौंसिल के अनुसार मैट्रिक परीक्षा के लिए इस बार 3.54 लाख परीक्षार्थियों ने रािस्ट्रेशन कराया है। वहीं इंटर कला में 1,28,0 कॉमर्स के लिए 37638 एवं विज्ञान संकाय में 57परीक्षार्थी शामिल होंगे। विगत वर्ष कला में 1201ॉमर्स में 3300और विज्ञान संकाय में 50513 छात्रों ने परीक्षा दी थी। परीक्षा को लेकर सभी जिलों में केंद्र निर्धारण का कार्य अंतिम चरण में है।ड्ढr एडमिट कार्ड का वितरण 6 से 10 फरवरी के बीचड्ढr रांची। परीक्षा को लेकर एडमिट कार्ड का वितरण छह से दस फरवरी के बीच होगा। मैट्रिक परीक्षा 15 मार्च एवं इंटर की परीक्षा 20 मार्च तक चलेगी। परीक्षा सामग्री का वितरण 11 फरवरी से शुरू होगा। मैट्रिक की प्रायोगिक परीक्षा 16 से 18 मार्च को गृह केंद्र पर होगी। इंटर की प्रायोगिक परीक्षा 1से 26 मार्च तक ली जायेगी। मैटिक का अंक पत्र 27 मार्च एवं इंटर का अंक पत्र छह अप्रैल तक जमा करने को कहा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मैट्रिक-इंटर में रिकार्ड 5.78 लाख परीक्षाथी