अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व सीबीआई निदेशक को नोटिस

एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में सुप्रीम कोर्ट ने निठारी हत्याकांड के एक गवाह की मौत के मामले में दायर अवमानना याचिका वापस लेने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। साथ ही, अदालत ने सीबीआई के पूर्व निदेशक विजय शंकर समेत पश्चिम बंगाल तथा उत्तर प्रदेश के सात पुलिस अधिकारियों को आपराधिक अवमानना का नोटिस भी जारी किया है। जस्टिस तरुण चटर्ाी की खंडपीठ ने यह नोटिस वंदना सरकार की याचिका पर जारी किया है। वंदना के पति जतिन सरकार का शव मुर्शिदाबाद (प.बंगाल) में संदिग्ध परिस्थितियों में एक तालाब में मिला था। वंदना का आरोप है कि उसके घरवाले की हत्या हुई है क्योंकि सीबीआई नहीं चाहती थी कि वह मनिंदर सिंह पंधेर और कोली के खिलाफ गवाही दे। हालांकि पश्चिम बंगाल सरकार ने जांच के बाद इस मामले को महा दुर्घटना बताया था। नोटिस का जवाब नोएडा के एसएसपी सिटी नवीन अरोड़ा, तत्कालीन एसपी सिटी परश पांडे, डीएसपी दिनेश यादव, सीबीआई के एसपी एसजेएम गिलानी, इंस्पेक्टर अजय सिंह और पश्चिम बंगाल के डीएसपी शांतो मित्रा (आईओ) व एसएसपी राहुल श्रीवास्तव को भी देना है। इन सभी को व्यक्ितगत रूप से सुप्रीम कोर्ट में पेश होना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पूर्व सीबीआई निदेशक को नोटिस