DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जागा पाकिस्तान, जमात पर शिकंजा

पाकिस्तान सरकार ने आखिरकार मुंबई हमलों में शामिल प्रमुख संगठन जमात-उद-दावा पर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने संगठन के करीब 164 आतंकवादियों को गिरफ्तार कर लिया है और इसके 5 प्रशिक्षण कैंपों पर छापे मारे हैं। पाकिस्तान में जमात-उद-दावा के करीब 124 आतंकवादियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस संगठन पर मुंबई में पिछले साल 26 नवंबर के आतंकवादी हमले का आरोप है। इनकी गिरफ्तारी पर एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हालांकि भारत ने पाकिस्तान को जो सबूत सौंपे हैं, उनको सबूत के तौर पर अदालत में कमजोर साबित होंगे। अधिकारी ने भारत को और जानकारी उपलब्ध कराने के लिए कहा। आंतरिक मामलों को मंत्री रहमान मलिक से जब पूछा गया कि क्या वह मानते हैं कि मुंबई हमले की साजिश पाकिस्तान में ही रची गई, तो उन्होंने इसका जवाब देने से इनकार कर दिया। गौरतलब है कि जमात-उद-दावा लश्कर का ही एक दूसरा संगठन है। रहमान ने बताया कि इस संगठन के 20 दफ्तरों, 87 स्कूलों, 2 पुस्तकालयों, 7 धार्मिक शिक्षा संस्थानों तथा 5 प्रशिक्षण कैंपों पर छापे मारकर बंद कर दिया गया है। रहमान ने बताया कि जिनलोगों को गिरफ्तार किया गया है, उसमें जमात के प्रमुख हाफिज मोहम्मद सईद भी है। जकीउर रहमान लखवी तथा जरार शाह को भी गिरफ्तार कर लिया गया है, जिसपर मुंबई हमलों की साजिश रचने और आतंकवादियों को लगातार पाकिस्तान से निर्देश देने का आरोप है। रहमान ने कहा कि पाकिस्तान एक जिम्मेवार राष्ट्र की तरह इनके खिलाफ कार्रवाई कर रही है। साथ में उन्होंने यह भी कहा कि वह यह कार्रवाई संयुक्त राष्ट्र द्वारा इस संगठन पर प्रतिबंध लगाने के कारण कर रहा है। उल्लेखनीय है कि मुंबई हमले के बाद संयुक्त राष्ट्र संघ ने जमात-उद-दावा पर प्रतिबंधित संगठन घोषित किया था। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने बार-बार संयुक्त जांच की बात दोहराई है, जिससे मामले को जल्द सुलझाने में आसानी होगी। रहमान ने कहा कि भारत ने कुछ जानकारियां पाकिस्तान को सौंपे हैं, लेकिन उसको सबूतों में बदलने के लिए पाकिस्तान को बहुत काम करना पड़ेगा, ताकि अदालत में उनके बलबूते पर केस लड़ा जा सके। रहमान ने कहा कि हमें विश्व के आगे यह साबित करना है कि भारत और पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ मुहिम में एक साथ खड़ा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जागा पाकिस्तान, जमात पर शिकंजा