अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माया के बर्थडे पर ‘रिटर्न गिफ्ट’ की झड़ी

यूपी की मुख्यमंत्री मायावती ने अपने 53वें जन्मदिन पर गुरुवार को बालिकाओं के लिए दो नई महत्वाकांक्षी योजनाओं- महामाया गरीब बालिका आशीर्वाद योजना और सावित्री बाई फुले बालिका शिक्षा मदद योजना की शुरुआत की। शहरी गरीब बस्तियों में रहने वालों को सर्वजन हिताय शहरी गरीब आवास (स्लम एरिया) मालिकाना हक योजना का तोहफा दिया। मुख्यमंत्री ने 00 करोड़ की विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इसके अलावा करीब 13 हजार विचाराधीन एवं गरीब बंदियों की रिहाई की घोषणा की। माया ने पत्रकारों से कहा कि सरकारी और स्थानीय निकाय की जमीन पर बस्ती बनाकर रहने वाले लगभग 1.4 करोड़ गरीब परिवारों को उस भूमि का मालिकाना हक दिया जाएगा जहां वे रह रहे हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि महामाया गरीब बालिका आशीर्वाद योजना से बीपीएल परिवारों में जन्मी वे बालिकाएं लाभान्वित होंगी जिनका जन्म 15 जनवरी, 200या उसके बाद होगा। इस योजना पर हर साल लगभग 00 करोड़ रुपये खर्च होंगे। 18 वर्ष उम्र पूरी होने के बाद बालिका को एक लाख रुपये मिलेंगे, शर्त सिर्फ यह होगी कि तब तक विवाह न हुआ हो। उन्होंने कहा कि इसका एक लाभ यह भी होगा कि लोग बालिका जन्म को बोझ समझने की जगह उसका स्वागत करंगे और इससे घटते लिंग अनुपात को दुरुस्त करने में मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सावित्री बाई फुले बालिका शिक्षा मदद योजना के तहत गरीबी रखा के नीचे के परिवारों की दसवीं पास बालिकाओं को आगे पढ़ने के लिए प्रोत्साहन स्वरूप एकमुश्त धनराशि मिलेगी। 11वीं कक्षा में जाने पर बालिका को एकमुश्त 15 हजार रुपये और एक साइकिल दी जाएगी। बालिका के 12वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर आगे शिक्षा पूरी करने के लिए 10 हजार रुपये और दिए जाएंगे। यह राशि बालिका को छात्रवृत्ति या अन्य मदों में मिलने वाली सुविधाओं के अलावा होगी। ये दोनों योजनाएं राज्य सरकार अपने संसाधनों से चलाएगी। इन पर हर साल करीब दो हजार करोड़ रुपये से अधिक खर्च होने की संभावना है। मुख्यमंत्री ने 18 जनपदों में 304 किलोमीटर लंबाई की 26 सड़कों और 1जनपदों में 121.03 करोड़ के 31 पुलों का लोकार्पण तथा आठ जनपदों में 105.77 करोड़ रुपये की लागत से बने 10 पुलों का शिलान्यास किया। इस मौके पर विभिन्न जेलों में जमानती धाराओं के तहत जमानत न दाखिल कर पाने वाले 12,780 गरीब विचाराधीन बंदियों तथा अधिकतम दंड की आधी अवधि पूरी कर चुके 273 गरीब बंदियों की रिहाई की गई। उन्होंने बताया कि 147 बीमार, असहाय एवं वृद्ध सिद्धदोष बंदियों की समय पूर्व रिहाई के लिए राज्यपाल से सिफारिश की गई है। एअर पोर्ट पर ही रोके गए अमर, जया बच्चनड्ढr मुख्यमंत्री मायावती के जन्म दिन पर सपा के थू-थू दिवस पर यहाँ सभा करने आ रहे समाजवादी पार्टी के महासचिव अमर सिंह, फिल्म अभिनेत्री व सांसद जया बच्चन, भोजपुरी फिल्म अभिनेता व सपा के घोषित प्रत्याशी मनोज तिवारी मृदुल को प्रशासन ने गुरुवार को एअरपोर्ट से बाहर नहीं निकलने दिया। ये लोग तीन घण्टे तक एअरपोर्ट पर ही नजरबंद जसी स्थिति में रहे। सपा महासचिव का तो आरोप है कि पुलिस ने उनके सिर पर डण्डा भी मारा। मनोज तिवारी का भी आरोप है कि उनके साथ भी धक्कामुक्की की गई। मनोज तिवारी का कहना है कि यह सब कुछ देखकर जया जी हतप्रभ रह गईं। उधर एअरपोर्ट के बाहर हंगामा कर रहे समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठियाँ बरसाई जिसमें दर्जनों सपाई चोटिल हुए। बाद में सैकड़ों सपाइयों को गिरफ्तार कर लिया गया। टाउन हाल फौव्वार पर सपा को थू-थू दिवस के तहत सभा करने थी। सपाइयों ने रात में ही मंच बना दिया था मगर भोर में प्रशासन ने सभा करने पर रोक करने सम्बन्धी आदेश का तामीला कराते हुए मंच को हटवा दिया। मेज-कुर्सियाँ पुलिस ने जब्त कर नगर निगम में रखवा दी। दोपहर में जब सपा महासचिव अमर सिंह, जया बच्चन व मनोज तिवारी विशेष विमान से एअर पोर्ट पर उतर तो जिलाधिकारी व एसएसपी ने उन्हें बाहर निकलने से यह कहते हुए रोक दिया कि निषेधाज्ञा लागू है। ये लोग चार बजे तक एअरपोर्ट के वीआईपी लाउन्ज में बैठे रहे। ‘हिन्दुस्तान’ से फोन पर सपा महासचिव अमर सिंह ने कहा कि वह बाहर निकलना चाह रहे थे तो पुलिस ने उनके सिर पर डण्डा मारा। भोजपुरी अभिनेता मनोज तिवारी ने बताया कि उनके साथ भी धक्कामुक्की हुई। यह सब देख जया जी हतप्रभ रह गईं। उन्होंने कहा कि इसके विरोध में वे तीनों एअरपोर्ट पर ही अनशन पर बैठ गए। उधर एअरपोर्ट के बाहर हंगामा कर रहे सपा नेताओं पर पुलिस ने उस वक्त लाठियाँ चलानी शुरू कर दी जब एक सपा नेता ने बसपा के झण्डे को फाड़ दिया। लाठी चार्ज में एक दर्जन से अधिक सपाई चोटिल हुए। बाद में सैकड़ों सपाइयों को गिरफ्तार कर लिया गया। दिग्विजय ने भी सामना किया धक्का-मुक्की काड्ढr जन्मदिन के नाम पर जबरन धन उगाही, आतंक और अवैध वसूली के खिलाफ गुरुवार को कांग्रेस सड़क पर उतरी। ‘शर्म करो, गद्दी छोड़ो’ के नार के बीच विभिन्न जिला मुख्यालयों में कांग्रेिसयों ने प्रदर्शन किया। इसे ‘ललकार दिवस’ का नाम दिया गया था। प्रदेश अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी के नेतृत्व में राजधानी में हुए प्रदर्शन में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह तक को लाठी और धक्का मुक्की का सामना करना पड़ा। कांग्रेसी सुबह से ही सैकड़ों की तादाद में शहीद स्मारक पर जमा हुए और सभा के बाद जुलूस की शक्ल में विधानसभा की तरफ बढ़ गए। ‘जन्मदिन तो बहाना है पैसा खूब कमाना है’ जसे नारे भी लगाए जा रहे थे। पुलिस ने लोहे की बेरिकेडिंग लगा कर जुलूस रोकने की कोशिश की तो कांग्रेसियों ने धक्का मुक्की शुरू कर दी। कांग्रेसियों ने आगे बढ़ने के लिए पथराव किया तो पुलिस ने लाठी भांजी और पानी की तेज बौछारं छोड़ीं। भगदड़ का फायदा उठा कर दिग्विजय सिंह, प्रमोद तिवारी, जगदंबिका पाल समेत कई नेता बैरिकेड़िंग के पार चले गए। जुलूस भी आगे बढ़ गया। आगे रॉयल होटल के पास पुलिस ने बैरिकेड़िंग कर फिर रास्ता रोक लिया और गिरफ्तारी के साथ रिहाई की भी घोषणा की। दिग्विजय और श्रीमती जोशी के नेतृत्व में सभी नेता सड़क पर ही धरना देकर बैठ गए। बाद में माया को बर्खास्त करने संबंधी एक ज्ञापन राज्यपाल टीवी राजेस्वर को दिया गया। भाजपा, अन्य दलों ने दी चुनौतीड्ढr भाजपा समेत कई विपक्षी दलों ने विधानसभा के सामने धरना देकर बसपा सरकार की नीतियों का विरोध किया। भाजपा के प्रदर्शन विभिन्न जिला मुख्यालयों में भी हुए। भाजपा महिला मोर्चा कार्यकर्ताओं ने लखनऊ में नार लगाए: लाज बचाओ, सिंदूर बचाओ। इन कार्यकर्ताओं पर भी पुलिस ने लाठियां भांजीं। प्रदेश भाजपा प्रवक्ता हृदय नारायण दीक्षित के मुताबिक, प्रदेश भर में धरना-प्रदर्शन सफल रहा। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रमापति त्रिपाठी के नेतृत्व में फैााबाद में शुक्रवार को भी सत्याग्रह आंदोलन होगा। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के नेतृत्व वाली लोकानशक्ित पार्टी की ओर से भी पूर प्रदर्शन में धरना-प्रदर्शन हुआ। पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष त्रिवेणी पाल की अध्यक्षता में ‘खूनी दिवस मनाया’। इसी तरह अपना दल कार्यकर्ताओं ने विधानसभा के सामने धरना दिया और इसे ‘हत्यारा दिवस’ के रूप में मनाया। राष्ट्रीय लोक दल कार्यकर्ताओं ने विधान भवन के सामने विरोध दिवस मनाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: माया के बर्थडे पर ‘रिटर्न गिफ्ट’ की झड़ी