DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अराजपत्रित कर्मचारियों की हड़ताल जारी

धीमी पड़ी काम की रफ्तारअराजपत्रित कर्मचारियों की हड़ताल से सरकारी कार्यालयों में काम की रफ्तार धीमी पड़ती जा रही है। कर्मचारी 13 जनवरी से हड़ताल पर हैं। शुक्रवार को भी कार्यालयों में धरना-प्रदर्शन का दौर जारी रहा। हड़ताल पर गये कर्मचारियों ने दिनभर धूम-धूम कर कार्यालय बंद कराने का प्रयास किया। अराजपत्रित कर्मचारी महासंघों की संघर्ष समिति के तारणी प्रसाद कामत, कपिल शर्मा और अशोक कुमार सिंह ने कहा कि हड़ताल सफल रही है। उन्होंने कहा कि जबतक उनकी मांगें नहीं मानी जाती, आंदोलन जारी रहेगा।ड्ढr शुक्रवार को हड़ताली कर्मचारी नेता नेपाल हाउस, प्रोजेक्ट भवन सहित अन्य विभागों में गये और गैर हड़ताली कर्मचारियों को हड़ताल में शामिल कराया। रामजी सिंह, सिंघेश्वर सिंह, सुबोध नारायण चौबे, कौशल सिन्हा, इजहारुल हक, सुनील कुमार साह, सुशील तिग्गा, गोपाल शरण सिंह, हरिहर यादव विभिन्न कार्यालयों में गये। जिला समिति की आम सभा रामचरित्र शर्मा की अध्यक्षता में हुई। इसमें हड़ताल की समीक्षा की गयी और कहा गया कि 11 सूत्री मांगों को लेकर उनकी हड़ताल सफल रही है। सहकारी अंकेक्षण पदाधिकारी संघ के हरिनारायण सिंह, रविंद्र कुमार, रतन वर्मा, मुकुल कुमार, श्याम प्रताप सिंह, रामाशंकर राय ने हड़ताल को सफल बताया है। भूमि सुधार कर्मचारी संघ के विक्रम महली, दिलीप कुमार और संतोष ने कहा है कि राज्य भर के विभागीय कर्मचारी हड़ताल पर हैं।ड्ढr चिकित्सा सेवा प्रभावितड्ढr अराजपत्रित कर्मचारियों की हड़ताल के कारण अस्पतालों में चिकित्सकीय कार्य भी प्रभावित हो रहा है। हड़ताल में शामिल झारखंड चिकित्सा एवं जन स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ने कहा है कि सभी 14 अनुमंडलीय अस्पताल और पीएचसी के स्वास्थ्य कर्मचारी हड़ताल पर हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अराजपत्रित कर्मचारियों की हड़ताल जारी