DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फुलवारीशरीफ में बेटिकट पुलिस स्टाफ को छोड़ने पर हंगामा

जिनके कंधों पर नियमों को पालन करवाने की जिम्मेदारी है वे हीं जब नियमों को तोड़ने लगें तो आम जनता क्या करगी। बात फुलवारीशरीफ स्टेशन की है, जहां शुक्रवार को टिकट जांच अभियान के दौरान उस समय काफी अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई जब वहां पहुंची 3202 कुर्ला एक्सप्रेस के एसी टू टायर में घुसे कुछ पुलिस स्टाफ को बिना टिकट पाए जाने पर अधिकारियों ने छोड़ दिया जिसके बाद यात्रियों ने हंगामा मचा दिया। यही नहीं यात्रियों के विरोध करने पर अधिकारियों ने उन्हें डांट भी लगाई और शेष बचे यात्रियों की टिकट जांचने लगे। इसके बाद फुलवारी स्टेशन पर काफी देर तक अफरातफरी मची रही। यात्रियों की शिकायत थी कि पुलिस स्टाफ को बिना जुर्माना लिए क्यों छोड़ा गया। यात्रियों ने कहा कि दर्जनभर लोग आरा स्टेशन में एसी टू बोगी में घुस गए। इससे यात्रियों को काफी परशानी हुई। अब ये जांच में पकड़े गए हैं तो कुछ को क्यों छोड़ दिया गया। एसी टू के 37 नंबर बर्थ पर मुंबई से आ रहे श्रीराम साह ने इसकी शिकायत वहां पर उपस्थित आला अधिकारी से भी की। श्री साह ने बताया कि स्टाफ के नाम पर ही एसी बोगियों में चोरी व डकैती की घटना को अंजाम दे दिया जाता है। ऐसे में बिना टिकट यात्रा करने वालों पर कोई रहम नहीं करनी चाहिए। उन्होंने बताया कि आधा दर्जन लोगों ने पकड़े जाने पर अपने को पुलिस स्टाफ बताया था। जांच में लगे अधिकारियों ने ऐसी किसी घटना से इनकार किया है। दानापुर रल मंडल व रल दंडाधिकारी के द्वारा संयुक्त अभियान चलाकर शुक्रवार को 125 बेटिकट यात्रियों को पकड़ा गया। जुर्माना नहीं देने वाले 70 यात्रियों को न्यायिक हिरासत में लिया गया। दानापुर के अधिकारी ने बताया कि टिकट जांच अभियान आगे भी जारी रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: फुलवारीशरीफ में बेटिकट पुलिस स्टाफ को छोड़ने पर हंगामा