DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजपक्षे ने यूएन महासचिव को आमंत्रित किया

श्रीलंका में सेना और तमिल विद्रोहियों के बीच संघर्ष में फंसे नागरिकों के प्रति अंतरराष्ट्रीय समुदाय की बढ़ती चिंताओं के बीच राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून को अपने देश आने का निमंत्रण दिया है ताकि वह स्वयं हालात का जायजा ले सकें। राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से बुधवार को जारी बयान में कहा गया, ‘‘राष्ट्रपति ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून को श्रीलंका आने का निमंत्रण दिया है ताकि हाल ही में बड़ी संख्या में सरकारी कब्जे वाले इलाकों में आए विस्थापितों के लिए किए गए इंतजामों का वह स्वयं जायजा ले सकें।’’ राजपक्षे ने यह निमंत्रण मंगलवार शाम मून के साथ टेलीफोन पर हुई बातचीत में दिया। बयान में कहा गया है, ‘‘राष्ट्रपति ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव से यह भी कहा कि हालात का स्वयं जायजा लेने पर ही वह तमिल नागरिकों की वास्तविक स्थिति का जायजा ले सकेंगे।’’ सरकारी आंकड़ों के अनुसार इस साल के आरंभ से करीब 200,000 लोग युद्ध क्षेत्रों से निकलकर सरकारी नियंत्रण वाले इलाकों में पहुंच चुके हैं। विस्थापितों को शरणार्थी शिविरों और कल्याण केंद्रों में रखा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजपक्षे ने यूएन महासचिव को आमंत्रित किया