अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सत्यम से घिरे रेड्डी सोनिया की शरण में

आंध्र प्रदेश में टीडीपी, टीआरएस व वाम गठबंधन से विचलित कांग्रेस ने जवाबी मोर्चा खोलते हुए सोमवार को कहा कि वह इस तरह अवसरवादी मोर्चे को ज्यादा अहमियत नहीं देना चाहती। यहां सोनिया गांधी समेत पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करने पहुंचे आंध्र प्रदेश क मुख्यमंत्री वाईएसआर राजशेखर रड्डी ने कहा कि कांग्रेस को इस तरह के मोर्चे से कोई भय नहीं है। उन्होंने ऐलान किया कि कांग्रेस राज्य में अपने बूते पर चुनाव लड़ेगी तथा विपक्ष के दुष्प्रचार को नाकाम करगी। सत्यम कंपनी घोटाले के सूत्रधार रामलिंगम राजू और उससे रिश्तों की वजह से सुर्खियों में आए राजशेखर रड्डी ने पार्टी के शीर्ष नेताओं को सफाई भी दी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा एक शेयर होल्डर की ओर से की गई शिकायत पर फौरन कार्रवाई की गई। उन्होंने दावा किया कि सत्यम प्रकरण से राज्य सरकार और केन्द्र सरकार की छवि पर कोई असर नहीं पड़ेगा क्योंकि यह कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है। उन्होंने इन खबरों से भी इंकार किया कि राजू को उनके मुख्यमंत्री बनने के बाद ज्यादा संरक्षण मिला। उन्होंने जवाबी प्रहार किया कि सच्चाई तो यह है कि विपक्षी टीडीपी और पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने रामलिंगम राजू को सिर पर बिठाया। यहां तक कि सन 2000 में जब बिल क्िलंटन हैदराबाद आए तो नायडू ने राजू को बिल क्िलंटन के बगल में बिठाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सत्यम से घिरे रेड्डी सोनिया की शरण में