अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खतरा टलने तक भारत नहीं आएंगे मोदी: वकील

खतरा टलने तक भारत नहीं आएंगे मोदी: वकील

इंडियन प्रीमियर लीग के पूर्व आयुक्त ललित मोदी का मानना है कि कुछ अवांछित तत्वों से उनकी जिंदगी को खतरा है और स्थिति में सुधार होने तक वह भारत वापस नहीं आएंगे।

क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय (आरपीओ) के मोदी को भेजे गये कारण बताओ नोटिस के संबंध में मोदी के वकील महमूद आब्दी ने गुरुवार को यह जानकारी दी। आब्दी से जब पूछा गया कि मोदी कब भारत लौटेंगे तो उन्होंने कहा कि कुछ अवांछित तत्वों से उनकी जान को खतरा है और वह स्थिति में सुधार होने तक नहीं लौटेंगे।
 
आरपीओ ने नोटिस में कहा है कि क्यों न उनका पासपोर्ट रद्द कर दिया जाए। इसके जवाब में  आब्दी ने कहा कि उनका मुवक्किल ने स्पष्टीकरण मांगा है कि जवाब देने की समयसीमा कब समाप्त हो रही है। आब्दी ने कहा कि हमने आरपीओ से यह भी कहा कि उसने 15 अक्टूबर को किन दस्तावेजों के आधार नोटिस जारी किया था।

उन्होंने कहा कि नोटिस का जवाब देने से पहले मोदी का यह जरूर पता चलना चाहिए कि प्रवर्तन निदेशालय के आरपीओ को भेजे गए गए किस संदर्भ के आधार पर नोटिस जारी किया गया। नोटिस के अनुसार मोदी को 15 दिन के अंदर जवाब देना होगा लेकिन आब्दी ने कहा कि 15 दिन का समय नोटिस मिलने की तिथि से शुरू होना चाहिए जो कि 20 अक्टूबर है। उन्होंने कहा कि इसलिए हमारे अनुसार समयसीमा चार अक्टूबर को समाप्त होती है। हमने 26 अक्टूबर को आरपीओ को पत्र भेजकर स्पष्टीकरण मांगा था लेकिन हमें कोई जवाब नहीं मिला है।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खतरा टलने तक भारत नहीं आएंगे मोदी: वकील