अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दक्षिण अफ्रीका को उसकी जमीन पर हराना है लक्ष्य : सचिन

दक्षिण अफ्रीका को उसकी जमीन पर हराना है लक्ष्य : सचिन

आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में आठ वर्ष के अंतराल के बाद फिर से नंबर 1 बन चुके और लाजवाब फॉर्म में चल रहे मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने कहा कि घरेलू मैदान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्लीन स्वीप से उत्साहित टीम इंडिया अब दक्षिण अफ्रीका को उसकी जमीन पर पटखनी देने के लिए तैयार है।
 
ग्रोसवेनर हाउस में आयोजित एशियन अवार्डस वितरण समारोह में यहां पहुंचे सचिन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ संपन्न टेस्ट सीरीज़ के जिक्र पर मीडिया से कहा कि ऑस्ट्रेलिया अब अपराजेय नहीं रहा है। यह बात साबित हो गई है लेकिन भारत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपनी श्रेष्ठता सिद्ध करनी है।
 
उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया हमेशा से दूसरी टीमों को कड़ी चुनौती देता आया है लेकिन सबने देखा कि हमने दूसरे टेस्ट में उन्हें बेहद आसानी से हरा दिया। अब अगर हमें किसी जीत की चाहत है तो वह यह कि दक्षिण अफ्रीका को उसके घरेलू मैदान पर हरा सकें। सचिन ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका बेहद दमदार प्रतिद्वंद्वी है। उसके खिलाड़ी जबर्दस्त चुनौती देते हैं। घरेलू हालात का लाभ उठाने में तो वह माहिर हैं। हमारा ध्यान उन्हें उनके ही घर में हराने पर लगा हुआ है।

अपने लगातार बेहतर प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर सचिन ने कहा कि उन्हें कभी अपनी उम्र की चिंता नहीं रही। उन्होंने कहा कि मैं तो बस क्रिकेट का लुत्फ ले रहा हूं। मुजे नहीं मालूम कि कब तक खेलता रहूंगा लेकिन जब तक मुझे इसमें मजा आ रहा है और मैं योगदान कर सकूंगा, मैं खेलना जारी रखूंगा। मेरी उम्र मुझे कभी नहीं सताती है।
 
सचिन को यहां पीपुल्स च्वाइस ऑफ द ईयर और आउटस्टैंडिंग स्पोर्ट्स एचीवमेंट अवार्ड से भी सम्मानित किया गया। सचिन ने कहा कि हरेक पुरस्कार उन्हें इस बात की खुशी देता है कि लोग उन्हें प्रोत्साहन दे रहे हैं।

मास्टर ब्लास्टर ने हाल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार दोहरा शतक समेत कई शानदार पारियां खेलकर उसे टेस्ट मैचों में 2-0 की करारी हार झेलने पर मजबूर कर दिया था। इस सीरीज़ के दौरान सचिन ने टेस्ट क्रिकेट में अपने 14 हजार रन पूरे करने का जश्न आईसीसी रैंकिंग में नंबर वन की कुर्सी हथियाकर मनाया था।
 
सचिन इस साल बेहतरीन फॉर्म में रहे हैं और अपने करिअर के सर्वश्रेष्ठ आईसीसी रैंकिंग के बेहद पास पहुंच गए हैं। उन्होंने श्रीलंका दौरे पर भी शानदार प्रदर्शन किया था। क्रिकेट जगत में सर्वाधिक रन, सर्वाधिक शतक, सर्वाधिक दोहरे शतक जैसे बल्लेबाजी के तमाम रिकॉर्ड सिर्फ सचिन के नाम दर्ज हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दक्षिण अफ्रीका को उसकी जमीन पर हराना है लक्ष्य : सचिन