DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक गबन मामले में सीबीआई ने जवाब सौंपा

सीबीआई ने बुधवार को एसडीजीएम की अदालत को बताया कि बैंक आफ बड़ोदा, चाइबासा शाखा से पांच करोड़ रुपये के गबन के मामले में सभी प्रकार की कानूनी प्रक्रिया अपनाकर ही कोड़ा लूटराज के किंगपिन विनोद सिन्हा के खिलाफ जांच एजेंसी ने प्राथमिकी दर्ज की थी।

इस मामले को लेकर चाइबासा के सत्र तथा व्यवहार न्यायालय में ट्रायल चल रहा है, जिसे रोकने के लिए भी सीबीआई ने संबंधित कोर्ट से प्रार्थना की है। इस मामले में विनोद सिन्हा को कोर्ट में सशरीर पेश किया गया। मामले की अगली तारीख अदालत ने 20 नवंबर को मुकर्रर की।

विनोद सिन्हा की ओर से अधिवक्ता पांडेय नीरज ने अपने मुवक्किल का पक्ष रखा। इससे पूर्व विनोद सिन्हा के छोटे भाई विकास सिन्हा को बुधवार को ही पीएमएलए कोर्ट में पेश किया गया। इडी कोर्ट की न्यायिक हिरासत में विकास सिन्हा पिछले वर्ष छह नवंबर से रांची के होटवार जेल में बंद हैं।

पीएमएलए कोर्ट ने विकास के मामले में अगली तारीख तीन नवंबर को निर्धारित की। दोनों भाइयों को एक ही वाहन से जेल से कोर्ट लाया गया था। दोनों को कुछ देर के लिए हाजत परिसर में रखा गया था, जहां दोनों आपस में बतियाते नजर आये। पहले विकास सिन्हा को पीएमएलए कोर्ट ले जाया गया।

इसके बाद विनोद सिन्हा को एसडीजेएम देवेंद्र कुमार की कोर्ट में प्रस्तुत किया गया। बैंक गबन मामले में विनोद सिन्हा के खिलाफ सीबीआई, दिल्ली शाखा ने गत 28 सितंबर को प्राथमिकी दर्ज की थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बैंक गबन मामले में सीबीआई ने जवाब सौंपा