अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी एसटीएफ देगी हत्याकांड की जांच में मदद

अतुल हत्याकांड में आगे की जांच में गाजियाबाद पुलिस यूपी एसटीएफ (स्पेशल टास्क फोर्स) की मदद ले रही है। हत्या में शामिल जिन लोगों व हत्यारे को गाजियाबाद पुलिस ने चिह्न्ति कर रखा है उनसे पूछताछ करने के लिए यहां की लोकल पुलिस उन्हें हिरासत में लेने में असफल रही है। जिसकी वजह से गाजियाबाद पुलिस को यूपी एसटीएफ की मदद लेनी पड़ी। हत्याकांड में एसटीएफ की मदद आखिर क्यों लेनी पड़ रही है। इस मामले पर एसएसपी कुछ भी कहने से बच रहे हैं। वहीं सूत्रों का कहना है कि हत्या से जुड़े लोगों के तार कई महत्वपूर्ण व प्रभावशाली लोगों से जुड़े हुए हैं। इसी वजह से गाजियाबाद पुलिस पर प्रेशर डाला जा रहा था और लोकल पुलिस हत्यारे को चिह्न्ति करने के बाद भी उससे पूछताछ नहीं कर पा रही थी। प्रभावशाली लोगों के प्रेशर से बचने के लिए गाजियाबाद पुलिस ने हाथ खड़े कर दिए व अग्रिम जांच के लिए यूपी एसटीएफ की मदद मांगी। बुधवार देर रात एसटीएफ की टीम गाजियाबाद पहुंचकर जांच में जुट गई है।
 गौरतलब है कि शनिवार दिनदहाड़े मश्हूर ज्वेलर अतुल गोयल की हत्या कर दी गई थी। हत्या के बाद से वारदात को एक चैलेंज मानते हुए एसएसपी ने उसी दिन मीडिया से मुखातिब होते वक्त कहा था कि 2 घंटे में मामले का खुलासा कर देंगे। मगर आज 100 घंटे से भी ज्यादा का समय बीत गया, गाजियाबाद पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई है। आखिरकार बुधवार सुबह एसएसपी ने हाथ खड़े कर दिए व अपने आला अधिकारियों से मामले की जांच के लिए यूपी एसटीएफ की मदद की अनुमति ले ली। एसएसपी रघुवीर लाल ने यह पुष्टि की है कि आगे की जांच में गाजियाबाद पुलिस की यूपी एसटीएफ मदद करेगी। उन्हेंने कहा कि किसी खास वजह से अतुल हत्याकांड का खुलासा करने के लिए एसटीएफ की मदद ली जा रही है।
 एसटीएफ की टीम इस मामले की जांच एसटीएफ के एडिश्नल एसपी राम किशोर के निर्देशन में कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपी एसटीएफ देगी हत्याकांड की जांच में मदद