DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हेडली के बारे में अमेरिकी रवैए से भारत निराश: पिल्लई

हेडली के बारे में अमेरिकी रवैए से भारत निराश: पिल्लई

भारत ने बुधवार को स्वीकार किया कि मुंबई आतंकी हमले की साजिश रचने वाले लश्करे तैयबा के आतंकवादी डेविड हेडली के बारे में विशिष्ट सूचनाएं प्रदान नहीं करने के लिए वह अमेरिका के रवैये से निराश है।

गृह मंत्रालय के सचिव जीके पिल्लई ने कहा कि हम यह कह सकते हैं कि हम इस बात से निराश हैं कि डेविड हेडली का नाम हमें नहीं बताया गया। मुंबई आतंकी से पहले नहीं तो कम से कम उसके बाद तो बताया जा सकता था।

पिल्लई उन सवालों का जवाब दे रहे थे जिनमें पूछा गया था कि हेडली की पत्नी ने अपने पति के आतंकी संगठन से सांठ-गांठ की जानकारी अमेरिकी अधिकारियों को दी थी लेकिन उस पर कार्रवाई नहीं हुई।

यह पूछे जाने पर कि क्या अमेरिका हेडली से जुड़ी सूचनाएं नहीं दे रहा है तो उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि यह आंशिक रूप से सही है, लेकिन पूरी तरह से नहीं। मैं यह कहूंगा कि उन्होंने कुछ सूचना दी है लेकिन मुझे खुशी होती अगर वे उससे अधिक सूचना देते जितनी अभी दे रहे हैं।

अमेरिकी मीडिया के अनुसार इस इस आतंकी की अमेरिकी पत्नी ने 2005 में ही न्यूयार्क में एफबीआई को हेडली के लश्करे तैयबा से संबंधों की जानकारी दे दी थी। बाद में उसकी मोरक्कन पत्नी ने भी 2008 में हुए मुंबई हमले से एक साल से कम पहले इस्लामाबाद स्थित अमेरिकी दूतावास के अधिकारियों को बता दिया था कि हेडली आतंकी हमले की साजिश रच रहा है।

पिल्लई ने कहा कि अगर हेडली के बारे में सूचना मिल जाती तो कम से कम हमलों के बाद जब वह 2009 में भारत आया तो उसे पकड़ा जा सकता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हेडली के बारे में अमेरिकी रवैए से भारत निराश: पिल्लई