अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाइकोर्ट के वकीलों की बेमियादी हड़ताल आज से

झारखंड हाइकोर्ट के वकील 27 अक्तूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे। बुधवार से वकील किसी भी कोर्ट में नहीं जाएंगे। यह बहिष्कार तब तक जारी रहेगा, जब तक कि उनकी समस्याओं का निराकरण नहीं हो जाता। एडवोकेट एसोसिएशन की मंगलवार को हुई जेनरल बॉडी की बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया।

बुधवार को एसोसिएशन ने पुन: 11 बजे बैठक बुलाई है। वकील जस्टिस डीएन पटेल पर हतोत्साहित करने का आरोप लगा रहे हैं। जस्टिस पटेल की कोर्ट का बहिष्कार पहले से ही जारी था। वकीलों का कहना है कि बेंच की ओर से मामले को शांत करने का प्रयास नहीं किया जा रहा है। इस कारण पूरे कोर्ट का बहिष्कार करने का निर्णय लिया गया।

एसोसिएशन की बैठक के दौरान वकीलों ने कहा कि एसोसिएशन ने कई बार जस्टिस पटेल के व्यवहार के खिलाफ चीफ जस्टिस से शिकायत की थी, लेकिन कभी भी गौर नहीं किया गया। जस्टिस पटेल की कोर्ट का बहिष्कार एक सप्ताह तक जारी रहा। जेनरल बॉडी ने तय किया था कि चीफ जस्टिस व जस्टिस पटेल बैठक में शामिल हों और विवाद का हल निकालें।

लेकिन ऐसा नहीं हुआ। कुछ वकीलों का कहना था कि चीफ जस्टिस ने बेल से संबंधित मामले की सुनवाई जस्टिस पटेल के पास सूचीबद्ध किया है। यह टकराव को बढ़ावा देता है। सर्वसम्मति से 27 अक्तूबर से अनिश्चितकालीन सभी कोर्ट का बहिष्कार करने का निर्णय लिया गया। एसोसिएशन की बैठक को चेयरमैन जयप्रकाश, महेश तिवारी, जेपी झा, एके रसीदी, एम जगन्नाथ एवं अन्य ने संबोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हाइकोर्ट के वकीलों की बेमियादी हड़ताल आज से