DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फसलों का मुआवजा एक नीति के अनुसार: हुडा

हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेन्द सिंह हुडा ने कहा है कि प्रदेश मे ओलावृष्टि से नष्ट हुई फसलों का मुआवजा किसानों को एक नीति के अनुसार दिया जाएगा। हुडा ने सोमवार को रोहतक में पत्रकारों से कहा कि नष्ट हुई फसलों का जायजा लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसानों की भलाई के लिए राज्य सरकार ने कई नई नीतियों को बनाकर प्रदेश में लागू किया है।

उन्होंने कहा कि पिछले साढे़ पांच साल के दौरान हरियाणा मे अभूतपूर्व विकास का कार्य हुआ जिसके कारण देश में हरियाणा की एक अलग पहचान बनी। किसानों के हितों के प्रति अपनी कटिबद्धता को दोहराते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन भूस्वामियों की भूमि विशेष आर्थिक जोन टैकनॉलाजी सिटी व पार्क के लिए अधिग्रहण की जाएगी उन भूस्वामियों को निजी कंपनियों द्वारा निर्धारित मुआवजे के अलावा प्रति एकड़ प्रति वर्ष 30 हजार रुपए की राशि 33 वर्ष तक रॉयल्टी के रूप मे देने का निर्णय भी राज्य सरकार ने लिया है।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2005 के आंरभ में प्रदेश मे बिजली की एक ही परियोजना आई थी। लेकिन 2005 से 2009 तक राज्य सरकार ने अधिक प्रयास कर चार परियोजना प्रदेश में स्थापित की। उन्होंने कहा कि यमुनानगर और चण्‍डीगढ़ के बिजली प्लाटों मे बिजली उत्पादन शुरू हो चुका है। जबकि झाड़ली का बिजली प्लांट इसी वर्ष 15 मैगावाट बिजली देना आरम्भ कर देगा। कानपुर और झज्जर में 1320 मैगावाट का बिजली प्लांट भी अगले वर्ष तक बिजली देना आरम्भ कर देगा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फसलों का मुआवजा एक नीति के अनुसार: हुडा