DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंभीर, इशांत की टीम में वापसी, युवराज को जगह नहीं

गंभीर, इशांत की टीम में वापसी, युवराज को जगह नहीं

बायें हाथ के सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर और तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने चोट से उबरने के बाद अगले महीने न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए सोमवार को 15 सदस्यीय भारतीय टेस्ट टीम में वापसी की।

गंभीर और इशांत चोटिल होने के कारण आस्ट्रेलिया के खिलाफ बेंगलूर में दूसरे और अंतिम टेस्ट मैच में नहीं खेल पाए थे। ये दोनों अब फिट हैं और इसलिए उन्हें टीम में चुना गया। टीम में कोई नया चेहरा शामिल नहीं है।

चयन समिति की सोमवार को यहां हुई बैठक में उदीयमान बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा को टीम में बनाए रखने का फैसला किया गया लेकिन दो अन्य युवा खिलाड़ियों अभिनव मुकुंद और जयदेव उनादकट टीम में जगह बनाने में असफल रहे।

खराब फार्म में चल रहे युवराज सिंह को फिर से टेस्ट टीम में जगह नहीं दी गई तथा चयनकर्ताओं ने मध्यक्रम में सुरेश रैना और पुजारा को तरजीह दी। इन दोनों ने अवसर मिलने पर अच्छा प्रदर्शन किया है।

महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली टीम में तीन तेज गेंदबाज जहीर खान, एस श्रीसंत और इशांत तथा तीन विशेषज्ञ स्पिनर हरभजन सिंह, अमित मिश्रा और प्रज्ञान ओझा शामिल हैं। सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्मण और वीरेंद्र सहवाग की मौजूदगी में भारतीय बल्लेबाजी मजबूत दिख रही है। ये सभी अभी अच्छी फार्म में चल रहे हैं। घुटने की चोट के कारण बाहर रहे गंभीर की वापसी का मतलब है कि मुरली विजय को चार नवंबर से अहमदाबाद में शुरू होने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में बाहर बैठना होगा।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड के मुख्य चयनकर्ता कृष्णमाचारी श्रीकांत ने पत्रकारों से कहा कि टीम ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट और वनडे सीरीज विशेषकर बेंगलूर टेस्ट मैच में बेहतरीन प्रदर्शन किया। हमारे जूनियर खिलाड़ी मध्यक्रम में सीनियर खिलाड़ियों के साथ अच्छा तालमेल बिठा रहे हैं। हमारे गेंदबाजों ने बहुत अच्छी भूमिका निभाई है।
 
उन्होंने कहा कि इसको देखते हुए हमने तीनों टेस्ट मैच के लिए टीम का चयन किया। मुझे पूरा विश्वास है कि हमारे खिलाड़ी अपना विजय अभियान बरकरार रखेंगे। श्रीकांत ने कहा कि हमारी बेंच स्ट्रेंथ मजबूत है। यह भारतीय क्रिकेट के लिए अच्छे संकेत है। कहा जाता है कि सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी जीत दिलाते हैं लेकिन मेरा मानना है कि सर्वश्रेष्ठ टीम जीतती है।

धोनी ने बैठक में हिस्सा नहीं लिया लेकिन पांच सदस्यीय चयन पैनल ने उनसे फोन पर सलाह मशविरा किया। सीरीज में मुख्य रूप से बल्लेबाजी पर ध्यान दिया जाएगा। स्टार बल्लेबाज तेंदुलकर को शतकों का अर्धशतक पूरा करने के लिए अब केवल एक सैकड़े की दरकार है। वह इस समय बेहतरीन फार्म में हैं और उन्होंने अपने लंबे कैरियर में पहली बार आईसीसी क्रिकेटर ऑफ द ईयर का पुरस्कार भी जीता है।

अहमदाबाद में चार नवंबर से पहला टेस्ट खेला जाएगा। दूसरा टेस्ट 12 से 16 नवंबर के बीच हैदराबाद और तीसरा टेस्ट 20 से 24 नवंबर के बीच नागपुर में खेला जाएगा। टेस्ट सीरीज के बाद पांच मैचों की वनडे सीरीज होगी। ये मैच गुवाहाटी (28 नवंबर), जयपुर (एक दिसंबर), वड़ोदरा (चार दिसंबर), बेंगलूर (सात दिसंबर) और चेन्नई (दस दिसंबर) को खेले जाएंगे।

भारतीय टीम इस प्रकार है
महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), वीरेंद्र सहवाग (उप कप्तान), गौतम गंभीर, मुरली विजय, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण, सुरेश रैना, चेतेश्वर पुजारा, हरभजन सिंह, जहीर खान, इशांत शर्मा, एस श्रीसंत, प्रज्ञान ओझा और अमित मिश्रा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गंभीर, इशांत की टीम में वापसी, युवराज को जगह नहीं