अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेफरल सिस्टम के लिए भारत को मनाने में जुटा द.अफ्रीका

रेफरल सिस्टम के लिए भारत को मनाने में जुटा द.अफ्रीका

दक्षिण अफ्रीका 16 दिसंबर से भारत के खिलाफ होने वाली घरेलू टेस्ट सीरीज़ में अंपायर रेफरल सिस्टम को लागू करने के पक्ष में है और इसके लिए भारत को मनाने की कोशिश कर रहा है।
 
दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट (सीएसए) के मुख्य कार्यकारी गेराल्ड माजोला ने कहा कि हम इस टेस्ट सीरीज़ में रेफरल सिस्टम के इस्तेमाल के पक्ष हैं और भारत को इसके लिए मनाने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि वह इसके पक्ष में नहीं है।
 
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हाल में संपन्न टेस्ट सीरीज़ के दौरान रेफरल सिस्टम का इस्तेमाल नहीं किया गया था। भारत ने इस वर्ष की शुरुआत में दो मैचों की टेस्ट सीरीज़ में दक्षिण अफ्रीका की मेज़बानी की थी और उसमें भी रेफरल सिस्टम लागू नहीं किया गया था।
 
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने न्यूजीलैंड के खिलाफ चार नवंबर के अहमदाबाद में शुरु हो रही तीन मैचों की टेस्ट सीरीज़ में भी रेफरल सिस्टम के इस्तेमाल की संभावना से इन्कार किया है।
माजोला ने कहा कि उनकी इस बारे में बीसीसीआई से बात हो रही है और दोनों देशों के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज़ में रेफरल सिस्टम का इस्तेमाल हो सकता है।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) नियमों के मुताबिक घरेलू टीम भ्रमणकारी टीम के साथ सलाह मशविरे के बाद रेफरल सिस्टम के इस्तेमाल का फैसला कर सकती है। माजोला ने कहा कि वह इस तकनीक के इस्तेमाल के पक्ष में हैं क्योंकि इससे सटीक फैसले में मदद मिलेगी।
 
दक्षिण अफ्रीका के कप्तान ग्रीम स्मिथ भी रेफरल सिस्टम को क्रिकेट के लिए फायदेमंद मानते हैं। उनका कहना है कि आईसीसी को इसे नियमित रूप से लागू करना चाहिए। स्मिथ ने कहा कि निश्चित रूप से तकनीक क्रिकेट में एक अहम कदम है। यह खेल और खिलाडियों दोनों के लिए लाभदायक है। रेफरल सिस्टम को सफल बनाने के लिए आईसीसी को नियमित रूप से इसका इस्तेमाल करना चाहिए। इसे हर सीरीज़ में लागू किया जाना चाहिए न कि चुनींदा सीरीजो में।

रेफरल सिस्टम पर दुनियाभर की टीमें बंटी हुई हैं। पहली बार भारत और श्रीलंका के बीच जुलाई, अगस्त 2006 में खेली गई तीन मैचों की टेस्ट सीरीज़ में इसका इस्तेमाल किया गया था। लेकिन उसके बाद से बीसीसीआई ने इसका विरोध करता आया है।
 
भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड रेफरल सिस्टम के पक्ष में हैं जबकि मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का कहना है कि इस्तेमाल से पहले इसमें सुधार की ज़रूरत है। दक्षिण अफ्रीका ने अपनी पिछले चार टेस्ट सीरीज़ में तीन बार रेफरल सिस्टम का इस्तेमाल किया है। वर्ष 2008-09 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछले सत्र में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज़ में तथा गत जून वेस्टइंडीज़ के खिलाफ संपन्न सीरीज़ में रेफरल सिस्टम का इस्तेमाल हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रेफरल सिस्टम के लिए भारत को मनाने में जुटा द.अफ्रीका