अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चमकेगी सड़क, दमकेगा फोरलेन

हजारीबाग से रांची तक एनएच 33 पर बनने वाले 4/6 लेन सड़क निर्माण के तीसरे चरण में सड़कों के दोनों ओर करीब 26 करोड़ की लागत से विद्युतीकरण का जाल बिछेगा। इस दौरान निर्माणाधीन 4/6 लेन सड़कों के दोनों ओर लगे तमाम पुराने विद्युत पोल और तार को हटाकर नये 33 केवी तथा एलटी बिजली लाइन का जाल बिछाया जाएगा।

इस संबंध में रामगढ़ विद्युत विभाग ने नेशनल हाइवे ऑथरिटी ऑफ इंडिया के प्रोजेक्ट डायरेक्टर को 25 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजा था। जिसमें चरही से चुटूपालू घाटी तक राउप 33 पर बननेवाले फोरलेन सड़कों के दोनों ओर लगे पुराने तार व पोल को हटाकर नये तार व पोल लगाने का खर्च शामिल किया गया है।

इसके लिए विद्युत विभाग ने एनएचआइ को अलग-अलग तीन स्टीमेट भेजा था। इसमें चरही 53 किमी से लेकर बोंगाबार 77 किमी तक के लिए 10 करोड़ 91 लाख 74 हजार 278 रुपये, रामगढ़ बाईपास बोंगाबार 77 किमी से लेकर कांकेबार 90 किमी के लिए 13 करोड़ 75 लाख 45 हजार 735 रुपये तथा कांकेबार 90 किमी से लेकर चुटूपालू 97 किमी के लिए एक करोड़ 28 लाख 79 हजार 104 रुपये का एस्टीमेट शामिल है।

विद्युत बोर्ड के इस प्रस्ताव को स्वीकृति मिल गयी है। विद्युत बोर्ड चरही से लेकर चुटूपालू तक अंडर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई डिविजन किमी के तहत सड़कों के दोनों ओर विद्युत का जाल बिछाने के लिए यह प्रस्ताव तैयार किया है।

रामगढ़ से भुरकुंडा तक बनने वाले 4/6 लेन में सड़क निर्माण में विद्युत विभाग द्वारा 7 करोड़ रुपये की लागत से नये  विद्युतीकरण का कार्य शुरू कर दिया गया है। यह काम एजेंसी द्वारा करवाया जा रहा है। जिसके तहत सड़कों के दोनों ओर 33 केवी, 11 केवी तथा एलटी लाइन का जाल सड़कों के दोनों ओर बिछाया जाएगा। साथ ही सड़कों के दोनों ओर नये विद्युत पोल व तार लगाए जायेंगे। विद्युतीकरण का यह नया जाल रामगढ़ से लेकर पीटीपीएस डैम तक बिछेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चमकेगी सड़क, दमकेगा फोरलेन