DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कार में लहूलुहान छोड़कर बदमाश हुए फरार

शुक्रवार को दिनदहाड़े बदमाशों ने शहर के मशहूर ज्वैलर अतुल गोयल की अपहरण करने के बाद गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात के बाद पूरे शहर में सनसनी फैल गई।

व्यापारियों मेंं भय व्याप्त है। पुलिस ने इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कर ली है। मामले का खुलासा करने के लिए पुलिस की पांच विशेष टीमें गठित कर बदमाशों की तलाश में लगाई गई हैं। उधर, शहर के व्यापारी अतुल गोयल की हत्या के बाद से सड़कों पर आ गये हैं। पूरा बाजार बंद कर वे चौपला मंदिर के पास धरने पर बैठ गये। पोस्टमार्टम करने के बाद देर शाम हिन्डन नदी के तट पर अतुल गोयल के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस दौरान शहर के कई गणमान्य लोग मौजूद रहे।
 पुलिस के अनुसार कविनगर थाना अंतर्गत कोठी नंबर केबी-76 निवासी अतुल गोयल (44) पुत्र अयोध्या प्रसाद पटवारी व उनके परिवार के शहर में आधा दर्जन ज्वैलरी शोरूम हैं। अतुल गोयल सुबह करीब 10 बजे बेटे शुभम (18) को साथ लेकर टाउन हाल स्थित अपने श्रीगणेश ज्वैलर्स नामक ज्वैलरी शोरूम पहुंचे। शोरूम पर पहुंचते ही अतुल गोयल के मोबाइल पर किसी का फोन आया, जिसके बाद अतुल बेटे से बोल कर गये कि वह कहीं जा रहे हैं और पांच मिनट में लौट आएंगे। इसी बीच करीब साढ़े 10 बजे अतुल के दोस्त नवीन गर्ग ने अतुल के मोबाइल पर किसी काम से फोन किया। अतुल ने उन्हें जवाब दिया कि उनका अपहरण कर लिया गया है। जब तक नवीन कुछ और पूछ पाते तब तक मोबाइल बंद हो चुका था।
इधर, अपहरण होने की सूचना नवीन ने उनके परिजनों व पुलिस को दी। करीब सवा 11 बजे कविनगर निवासी आकाश जिंदल सी. ब्लाक स्थित कविनगर पुलिस चौकी की तरफ से कहीं जा रहे थे। उन्होंने देखा कि पुलिस चौकी से 100 मीटर की दूरी पर एक लाल रंग की वैगन आर कार खड़ी है। कार की ड्राइविंग सीट पर बैठे अतुल की बांई कनपटी पर गोली लगने से खून निकल रहा है। सीट के नीचे पिस्टल पड़ा है। यह दृश्य देखते ही आकाश जिंदल ने फौरन पुलिस चौकी पर सूचना दी। पुलिस घायल अतुल को यशोदा अस्पताल ले गई, जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मौत की खबर पाकर शहर के सैकड़ों लोग अस्पताल पहुंच गए। लोगों ने इस सनसनीखेज वारदात की निंदा करते हुए वहां जमकर हंगामा किया व जल्द से जल्द इस वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। अस्पताल में हो रहे हंगामे को शांत कराने एसएसपी, एसपी सिटी, एसपी क्राइम, दो क्षेत्रों के डीएसपी समेत सैकड़ों पुलिसकर्मियों को पहुंचना पड़ा।
 एसएसपी रघुवीर लाल का कहना है प्रथम दृ्ष्टया जांच में पता चला है कि अतुल गोयल की हत्या उन्हीं के पिस्टल से की गई है। कार में से अतुल का पिस्टल, अतुल के पास से मोबाइल फोन, सोने की चेन, पांच अंगूठियां व नगदी मिली है। मृतक अतुल गोयल के बड़े भाई अनिल गोयल द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर अज्ञात के खिलाफ सदर कोतवाली में आईपीसी की धारा 302/364 आईपीसी में रिपोर्ट दर्ज की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कार में लहूलुहान छोड़कर बदमाश हुए फरार